चीता पुलिस कर्मियों पर होगी कारवाई, महिला की घर में पिटाई का है आरोप ।

 

युवती से छेड़छाड़ के आरोपित दो भाइयों को पकड़ने गए चीता पुलिसकर्मियों और आरोपितों के बीच मारपीट का वीडियो बुधवार को वायरल हो गया था। गुरुवार को आरोपितों की मां पुलिस मुख्यालय पहुंची। उन्होंने पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था को पत्र सौंपा है।

शिकायती पत्र में दीपनगर निवासी कलावती देवी ने बताया कि 25 अगस्त की रात साढ़े नौ बजे दो पुलिसकर्मी उनके घर आए। उनका बेटा अमित कमरे से बाहर आया तो पुलिसकर्मियों ने उसे पीटना शुरू कर दिया। महिला ने आरोप लगाया कि जब वह बीच-बचाव करने के लिए आई पुलिसकर्मियों ने उसे थप्पड़ मारे और सिर पर हेलमेट से वार किया। कुछ देर बाद अन्य पुलिसकर्मी भी मौके पर पहुंचे। गेट पर ताला लगा होने के कारण पुलिसकर्मी गेट फांदकर घर के अंदर दाखिल हुए। कुछ समय बाद उनका दूसरा बेटा अजरुन भी घर पहुंचा तो पुलिसकर्मियों ने उसके साथ भी मारपीट की। पुलिस दोनों को थाने ले गई। वहीं, डीआइजी अरुण मोहन जोशी ने बताया कि निष्पक्ष जांच कर करवाई की जाएगी।

मारपीट के आरोप में कोतवाली पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ क्रास मुकदमा दर्ज किया है। गौतम सिंह नेगी निवासी नई बस्ती निवासी सी ब्लॉक रेसकोर्स ने बताया कि बुधवार शाम करीब सात बजे वह अपने भाई लक्ष्मण सिंह नेगी के साथ घर के बाहर पड़ी बजरी उठा रहा था। पड़ोसी बलबीर सिंह व उनके बेटे संदीप ने लाठी-डंडों से उनको पीटा। दूसरी ओर बलबीर सिंह ने बताया कि उन्होंने बजरी से भरे कट्टों को सड़क से हटाने को कहा तो लक्ष्मण व उसके भाई गौतम ने बेल्चे व डंडों से हमला कर दिया। पुलिस ने लक्ष्मण सिंह, गौतम सिंह, बलबीर सिंह व संदीप निवासी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

यहां उत्तराखंड राज्य के बारे में विभन्न जानकारियां साँझा की जाती है। जिसमें नौकरी,अध्ययन,प्रमुख समाचार,पर्यटन, मन्दिर, पिछले वर्षों के परीक्षा प्रश्नपत्र, ऑनलाइन सहायता,पौराणिक कथाएं व रीति-रिवाज और गढ़वाली कविताएं इत्यादि सम्मिलित हैं। जो हर प्रकार से पाठकों के लिए उपयोगी है ।