उत्तराखंड के चार जिलों में कोरोना संक्रमित मौतों की दर पहुंची 91 प्रतिशत ।



राज्य में अब तक कुल 13,225 मामले सामने आये हैं। जिनमे से 9132 लोग ठीक भी हो चुके हैं। जबकि 3865 मरीजों का विभिन्न हस्पतालों में इलाज चल रहा है। राज्य में अब तक वायरस से 178 लोगों की जान गई हैं। राज्य में कोरोना के गंभीर मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है और इस वजह से अफसरों की चिंता बढ़ रही है। हालांकि स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी का कहना है कि संक्रमित मरीजों की मौत के पीछे एक बड़ी वजह उनकी अन्य बीमारियां हैं। उन्होंने कहा कि गंभीर मरीजों को बचाया जा सके इसके लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। 
 
 

राज्य में अभी तक हुई कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत में 91 प्रतिशत योगदान मैदानी जिलों के मरीजों का है। मैदान के मुकाबले पर्वतीय जिलों में मौक का आंकड़ा बहुत कम है। मंगलवार तक राज्य में हुई कुल मौतों में से 149 मौत मैदान के जिलों में हुई है। जबकि महज पर्वतीय जिलों में कुल 15 मरीजों की मौत हुई है जो कुल मौतों का नौ प्रतिशत है। मैदान के जिलों में भी सर्वाधिक 91 मौत देहरादून में हुई है। जो कुल मौतों का 55 प्रतिशत हैं। राज्य में कोरोना मरीजों की मौता की दर 1.27 प्रतिशत है। जबकि देश में कोरोना डेथ रेट 1.91 प्रतिशत है। उत्तराखंड में संक्रमित मरीज बढ़ने के साथ कोरोना मरीजों के मौत का आंकड़ा बढ़ रहा है। प्रदेश में कुल संक्रमितों की मौत में 91 प्रतिशत मौतें चार मैदानी जिलों में हुई हैं। वहीं, नौ पर्वतीय जिलों में मृत्यु दर नौ प्रतिशत है। चमोली जिले में एक भी मौत नहीं हुई है। देहरादून जिले में सबसे अधिक 91 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। 
 
टॉप पर है चार मैदानी जिले:- प्रदेश में अब तक 164 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। बीत दो सप्ताह में मृत्यु दर 1.18 प्रतिशत से बढ़ कर 1.27 प्रतिशत हो गई है। जो राष्ट्रीय मृत्यु दर 1.91 प्रतिशत की तुलना में 0.64 प्रतिशत से कम है।  प्रदेश के देहरादून, नैनीताल, ऊधमसिंह नगर और हरिद्वार जिले में 149 मरीजों (91 प्रतिशत) की मौत हुई है। जिसमें देहरादून में 91, नैनीताल में 31, हरिद्वार में 16, ऊधमसिंह नगर में 11 संक्रमित शामिल थे।
 
पहाड़ी जिलों में मौतों का आंकड़ा:-जबकि पौड़ी में 04, पिथौरागढ़, चंपावत, अल्मोड़ा, टिहरी जिले में 02-02, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर, उत्तरकाशी में 01-01 संक्रमित की मौत हुई है। चमोली जिले में अभी तक एक भी संक्रमित मरीज की मौत नहीं हुई।
 
कोरोना आंकड़ों का अध्ययन कर रहे सोशल डेवलपमेंट फॉर कम्युनिटी फाउंडेशन के संस्थापक अनूप नौटियाल का कहना है कि चार जिलों में कोरोना मरीज बढ़ने के साथ ही मौत का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। मृत्यु दर बढ़ाना गंभीर चुनौती है।  वहीं, स्वास्थ्य सचिव, अमित सिंह नेगी का कहना है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की मृत्यु दर बढ़ने से रोकने पर विशेष फोकस है। सभी जिलों को निर्देश दिए कि गंभीर रूप से संक्रमित मरीजों की वरिष्ठ डॉक्टर निगरानी रखें। यह प्रयास किया जा रहा है कि संक्रमित मरीज की मौत न हो।

(BDO) Block Development Officer Vacancy Uttarakhand 2020
Uttarakhand Education Department- 658 Vacancies
अगस्तमुनि से रुद्रप्रयाग जा रही बोलेरो हादसे का शिकार, सड़क पर ही पलट गई गाड़ी ।
श्रीनगर गढ़वाल में यूटिलिटी चालक ने स्कूटी सवार को कुचल डाला, युवक की मौत ।
कर्णप्रयाग में बोलेरो वाहन दुर्घटनाग्रस्त, एक की मौत दूसरा गम्भीर रूप से घायल ।
 वर्ग-4 (सहयोगी/गार्ड) के पदों पर भर्ती, 23 दिसम्बर अंतिम तारीख ।
पाकिस्तान की गोलाबारी में ऋषिकेश के राकेश डोभाल शहीद, परिवार का रो रोकर बुरा हाल ।
कॉलेज की छात्रा से किया शादी वादा फिर तीन साल बनाए शाररिक सम्बन्ध, अब शादी के लिए चाहिए पांच लाख दहेज ।
PMGSY RECRUITMENT 2020 UTTARAKHAND
मैक्सजीप खाई में जा गिरी, दो लोगों की मौके पर मौत ।

यहां उत्तराखंड राज्य के बारे में विभन्न जानकारियां साँझा की जाती है। जिसमें नौकरी,अध्ययन,प्रमुख समाचार,पर्यटन, मन्दिर, पिछले वर्षों के परीक्षा प्रश्नपत्र, ऑनलाइन सहायता,पौराणिक कथाएं व रीति-रिवाज और गढ़वाली कविताएं इत्यादि सम्मिलित हैं। जो हर प्रकार से पाठकों के लिए उपयोगी है ।