छात्राओं ने तहरीर में आरोप लगाया कि प्राचार्य डॉ. प्रेम प्रकाश टम्टा कॉलेज की कई छात्राओं को व्हॉट्सएप पर अश्लील मेसेज भेजते हैं। फोन कर अपशब्दों का प्रयोग करते हैं। बताया जा रहा है कि प्राचार्य करीब एक साल पहले स्थानांतरित होकर यहां आए थे। तभी से इस प्रकार की घटनाएं हो रहीं हैं। पहले छात्राएं बदनामी के डर से चुप थीं, अब कुछ छात्राओं ने हिम्मत जुटाकर प्राचार्य के खिलाफ आवाज उठाई और शिकायत लेकर थाने पहुंच गईं।

दरअसल पूरा मामला कोटाबाग डिग्री कॉलेज कालाढूंगी (नैनीताल) से उजागर हुआ है। प्राचार्य डॉ. प्रेम प्रकाश टम्टा पर छात्राओं को अश्लील मेसेज भेजने का आरोप लगा है। थानाध्यक्ष दिनेश नाथ महंत ने बताया कि डिग्री कॉलेज कोटाबाग की कुछ छात्राओं के बयान दर्ज किए गए हैं और प्राचार्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। प्राचार्य डॉ. प्रेम प्रकाश टम्टा ने कहा कि वह सभी को गुड मॉर्निंग और गुड नाइट के मेसेज भेजते हैं। किसी को कोई गलत मेसेज चला गया हो तो उसके लिए क्षमा चाहते हैं और हर सजा भुगतने को तैयार हैं।

छात्रसंघ और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने इस मामले की निंदा की है और प्राचार्य को निलंबित करने की मांग की है। छात्र संघ अध्यक्ष रीता बिष्ट, उपाध्यक्ष निशा जोशी, सचिव अक्षय कुमार, कोषाध्यक्ष शैलेंद्र बिष्ट, उपसचिव हरेंद्र राणा, ललित जोशी, कमल बोहरा, रजत बधानी, चंदू सनवाल, विनोद जोशी, पुनीत बिष्ट, शिवम पांडे, यशपाल साह और हेमंत कुमार आदि ने निलंबन न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।