ऋषिकेश के एक स्थानीय बाजार से लगातार चोरी की खबरे सामने आ रही थी। जब शिकायत थाने में पहुंची तो आस पास के सीसीटीवी कैमरे खंगाले जाने पर पूरे सच का पता चला है। दरअसल लक्ष्मण झूला थाना अंतर्गत एक विदेशी महिला सीसीटीवी में दुकानों के बाहर रखे सामान को चोरी करते हुए देखी गई। मामले में बुधवार को सभासद जितेंद्र धाकड़ ने पुलिस को तहरीर देकर विदेशी के खिलाफ कारवाई की मांग की है। लक्ष्मण झूला थाना पुलिस को दी तहरीर में सभासद ने बताया कि कई दिनों से क्षेत्र की दुकानों के बाहर रखा सामान चोरी होने की जानकारी मिल रही है। मामले की पुष्टि के लिए जब बाजार में लगे सीसीटीवी को चेक किया गया तो एक विदेशी महिला सामान चोरी करते हुए देखी गई है। इस घटना से व्यापारियों में रोष है। घटना की जानकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पौड़ी को भी सभासद ने दी है।

वहीं दूसरी तरफ कुछ समय पहले एक शोरूम में हुई चोरी में पुलिस को कामयाबी हाथ लगी है। पकड़े गए दो चोर उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। ऋषिकेश कोतवाली पुलिस ने इलेक्ट्रानिक्स के गोदाम में तीन दिन पूर्व हुई चोरी का पर्दाफाश करते हुए कैनाल गेट के समीप दो आरोपितों को धर दबोचा। पुलिस ने चोरी हुआ माल बरामद कर लिया है। बीती 23 अगस्त को ऋषिलोक कॉलोनी आशुतोष नगर निवासी राकेश कुमार बतरा ने इस संबंध में कोतवाली पुलिस को तहरीर दी थी। उन्होंने बताया कि उनकी इंडिया विजन के नाम से लाजपत राय मार्ग पर इलेक्ट्रानिक्स की दुकान है, जिसका गोदाम गोपाल नगर आनंद उत्सव वेडिंग प्वाइंट के पीछे स्थित है। 23 अगस्त सुबह जब वह गोदाम पर गए तो गोदाम का शटर खुला हुआ था। गोदाम में जाकर देखा तो वहां से सात एलसीडी टीवी, एक फ्रिज, एक डिप फ्रिज, एक वॉशिंग मशीन, एक कूलर व एक टेबल फैन गायब था।


कोतवाली प्रभारी निरीक्षक रितेश शाह ने बताया कि तहरीर पर मामला दर्ज कर घटनास्थल के आसपास व वहां से आने जाने वाले रास्तों में लगे सीसीटीवी की फुटेज खंगाली गई। इसी आधार पर संदिग्धों की फोटो जारी कर उनकी तलाश शुरू की गई। बुधवार सुबह कैनाल गेट पर चेकिंग के दौरान एक लोडर को रोका गया। जांच में पता चला कि यह वहीं वाहन है। जिसमें चोरी का माल लाद कर ले जाया गया था। वाहन में सवार दोनों व्यक्तियों से सख्ती से पूछताछ की गई तो उन्होंने गोदाम से चोरी करना कबूल किया।

एक का नाम मोहम्मद अनस और दूसरे का नाम मोहम्मद लुकमान है। दोनों ने पता मुजफ्फरनगर उत्तरप्रदेश बताया। उन्होंने बताया कि 22 अगस्त रात को उन्होंने गोदाम का ताला तोड़ा। वहां से इलेक्ट्रानिक्स सामान चोरी कर लोडर में लदा कर आइडीपीएल के खंडहरों में छिपा दिया था। जिसे वह आज लेने जा रहे थे। पुलिस ने आरोपितों की निशानदेही पर चोरी का पूरा माल बरामद कर लिया। आरोपितों को न्यायालय में पेशकर जेल भेज दिया गया है।