उत्तराखंड में कोरोना से लगातार संक्रमितों का ग्राफ बढ़ता जा रहा। मैदानी इलाको में तेजी से बढ़ते ग्राफ ने जहां अर्थव्यवस्था पर ब्रेक लगा दिया वहीं अब पहाड़ी क्षेत्र के बाजरों पर भी कोरोना का असर देखने को मिल रहा है। सोमवार से गुरूवार तक जाँच के लिए भेजे गए नमूनों से श्रीनगर गढ़वाल में 57 लोगों में कोरोना के लक्षण पाए गए थे। लेकिन शुक्रवार लिए गये 500 नमूनों में फिर से 48 में संक्रमण की पुष्टि ने पूरे क्षेत्र में आवाजाही पर ब्रेक लगा दिया है।

पौड़ी जिले के अंतर्गत आने वाला मुख्य बाजार श्रीनगर और सरकारी चिकित्सा हस्पताल श्रीकोट सहित सम्पूर्ण स्थानीय बाजार दो दिनों के लिए बन्द रखा गया है। श्रीनगर में बिहार से आई लेबर के साथ संक्रमण आया था। जिसके बाद लगातार स्थिति बिगड़ती ही जा रही है।


अब तक को जांच में श्रीनगर के समीप कृतिनगर ब्लॉक में 02 कोरोना संक्रमित मिले हैं। वहीं भगतियाणा में 02 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके अलावा श्रीनगर व श्रीकोट में लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है। बीते दिन स्वस्थ्य विभाग ने कुल 500 सेम्पल जांच के लिए थे जिनमे से 48 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए श्रीनगर व श्रीकोट को शनिवार व रविवार को ऐतिहातन बन्द रखा गया है। अगर स्थिति सामान्य नही हुई तो श्रीनगर को आगे भी बन्द रखा जा सकता है। क्योंकि जिस प्रकार हर दिन संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है, उससे स्वास्थ्य व्यवस्थाओं पर असर को देखते हुए बन्द को बढ़ाया भी जा सकता है।