उत्तराखंड परिवहन निगम के फटे हाल होने से कर्मचारियों का वेतन चुकाने में दिक्कतें आ रही हैं। परिवहन निगम में कार्यरत 3500 संविदा, आउटसोर्स कर्मचारियों को न्यूनतम वेतनमान देने के मुद्दे पर प्रबंधन और उत्तरांचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन में ठन गई है। यूनियन ने चेतावनी दी है कि यदि आठ सितंबर तक संविदा आउटसोर्स कर्मचारियों को समान कार्य के लिए समान वेतन के आधार पर भुगतान नहीं किया गया तो 9 सितंबर से अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार, उपवास करने के साथ ही मध्य रात्रि से बसों का संचालन ठप कर दिया जाएगा।

रोडवेज कर्मचारी यूनियन की ओर से इस संबंध में प्रबंध निदेशक को नोटिस भी सौंप दिया गया है। यूनियन के पदाधिकारियों की वर्चुअल मीटिंग में इस मुद्दे पर चर्चा भी की गई। जिसमें इस बात पर सहमति बनी कि विशेष श्रेणी, आउटसोर्स, संविदा ड्राइवरों कंडक्टरों को न्यूनतम 9124 रुपये का वेतन स्वीकार नहीं किया जाएगा।