कुंभ मेले के दृष्टिगत 3250 होमगार्ड और स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के लिए नर्सों की भर्ती प्राविधिक शिक्षा विभाग के जरिए की जाएगी। इसके लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गृह और स्वास्थ्य विभाग द्वारा भेजे गए प्रस्तावों को मंजूरी पमिल चुकी है।


2021 में हरिद्वार में कुंभ का आयोजन होना है। इसमें बड़ी संख्या में देश-विदेश से श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है। इन सबके लिए सुरक्षा व्यवस्था बनाना पुलिस के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। इस तरह के कार्यों में अधिकांश पुलिस होमगार्ड विभाग से मदद लेती है। अभी विभाग में 6500 से अधिक होमगार्ड हैं, जो विभिन्न विभागों में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। केंद्र सरकार कुछ समय पहले प्रदेश में होमगार्ड की संख्या 10 हजार तक करने की सहमति बन गई है। आपको बता दें कि होमगार्ड की संख्या को 10 हजार करने की बात वर्ष 2018 से चल रही है, लेकिन अब कुम्भ मेले के चलते यह भर्ती की जा रही है।

3250 होमगार्ड की भर्ती का प्रस्ताव होमगार्ड और नागरिक सुरक्षा निदेशालय द्वारा शासन को भेजा गया था। इस पर मुख्यमंत्री ने पुलिस और अन्य आनुषांगिक इकाइयों के साथ होमगार्ड की नियुक्ति के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी है। इस क्रम में अब जल्द 3250 होमगार्ड की नियुक्ति की जा सकेगी। नर्सों की शीध्र भर्ती के भी निर्देशमुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्राविधिक शिक्षा विभाग के माध्यम से नर्सों की भर्ती के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी है।