काशीपुर के ढकिया गुलाबो निवासी एक युवक की सरिया और धारदार हथियारों से हत्या कर दी गई। मृतक केभाई की तहरीर पर पुलिस ने सूदखोर समेत दो लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। आरोपी खबर लिखी जाने तक फरार थे। ढकिया गुलाबो निवासी टिंकू कश्यप (38) पुत्र स्व. गोकुल सिंह बृहस्पतिवार की शाम 7:35 बजे अपने घर से निकला था। साढ़े आठ बजे के करीब वह मस्जिद के पास खाली पड़े भूखंड में मरणासन्न हालत में पड़ा मिला। कॉलोनी के लेखराज और खूब सिंह की सूचना पर उसके भाई राजू और महेंद्र आदि मौके पर पहुंच गए। भाइयों ने टिंकू को सरकारी अस्पताल पहुंचाया। रात करीब 11 बजे उसकी हालत बिगड़ने लगी तो परिजन उसे निजी अस्पताल में ले गए जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया ।

सूचना पर एसआई गणेश पांडे ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया। सीओ एपी कोंडे, कोतवाल चंद्रमोहन सिंह, एसएसआई सतीश चंद्र कापड़ी भी टीम के साथ मोर्चरी पहुंच गए। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार मृतक के एक पैर में चीरा लगा था और उसके प्राइवेट पार्ट्स में भी चोट थी। उसकी मौत शरीर पर लगी चोटों के कारण होनी बताई गई है। मृतक के भाई राजू ने पुलिस को तहरीर देकर कॉलोनी के ही वेदप्रकाश और अरविंद पर उसके भाई टिंकू की हत्या का आरोप लगाया। राजू ने कहा है कि मरने से पहले खुद टिंकू ने उक्त दोनों को उसके साथ हुई घटना के लिए जिम्मेदार बताया था। राजू की तहरीर पर पुलिस ने वेदप्रकाश और अरविंद के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। मृतक अविवाहित था और अपनी मां रामवती और दो भाइयों राजू और महेंद्र के परिवारों के साथ अपने पैतृक मकान में रहता था। बड़ा भाई सोनू जसपुर में रहता है, जबकि छोटी बहन आरती का विवाह हो चुका है। ढकिया गुलाबो निवासी टिंकू की हत्या की गई है। मृतक के भाई की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस घटना के संबंध में साक्ष्य जुटा रही है।