कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को बड़ा झटका लगा है। सरकार ने उनसे भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी वापस ले ली है। उनके स्थान पर श्रम संविदा बोर्ड के अध्यक्ष शमशेर सिंह सत्याल को अतिरिक्त दायित्व दिया गया है। सचिव श्रम हरबंस सिंह चुघ की ओर से मंगलवार देर शाम इसके आदेश जारी किए गए। ये आदेश ऐसे समय में हुआ है, जब भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड लगातार विवादों में है। हरक सिंह रावत बतौर श्रम मंत्री बोर्ड अध्यक्ष पद का जिम्मा संभाले हुए थे।


हरक सिंह ने श्रम मंत्री बनने के कुछ समय बाद ही बोर्ड की कमान अपने हाथ में ली थी। इसके साथ ही सचिव पद पर दमयंती रावत को जिम्मेदारी मिली थी। दमयंती के शिक्षा विभाग से बिना एनओसी प्रतिनियुक्ति पर बोर्ड सचिव का पद संभालने को लेकर विवाद भी हुआ था। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे और श्रम मंत्री के बीच विवाद की स्थिति भी बनी थी। अब श्रम मंत्री से बोर्ड अध्यक्ष की जिम्मेदारी वापस लेने के सरकार के फैसले को चौंकाने वाला फैसला माना जा रहा है।