तोताघाटी में पहाड़ कटान कार्य के चलते बीते तीन माह से मार्ग बंद है। जिससे यात्रियों की दूरी के साथ समय भी बढ़ रहा है। करीब 48 किलोमीटर की अधिक दूरी तय करनी पड़ रही है। इस कार्य के चलते स्थानीय लोगों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। लेकिन अब स्थानीय लोगों के साथ साथ यात्रियों के लिए भी राह आसान होगी । 16 अक्टूबर से मार्ग को पुनः यात्रा के लिए खोल दिया जाएगा ।



एचएच ने चट्टान कटान कार्य पूरा कर लिया है। जबकि मलबा हटाने का कार्य अंतिम चरण में है। पहले मार्ग 10 अक्तूबर को खोला जाना था। लेकिन ब्लॉस्ट करने से बड़ी मात्रा में मलबा सड़क पर गिर गया था। जिसे हटाने के लिए 20 अक्तूबर तक का समय निर्धारित किया गया था। लेकिन विभाग ने मार्ग को जल्दी ही ठीक कर दिया है। इन दिनों तीनधारा-देवप्रयाग के बीच सड़क से अधिकांश मलबा हटा दिया गया है। केवल कुछ किलोमीटर ही डामरीकरण का कार्य किया जाना है। जिसे इसी माह पूरा करने का विभाग दावा कर रहा है।



इन दिनों चारधाम यात्रियों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। छोटे वाहन नरेन्द्रनगर-खाडी-देवप्रयाग एवं बस समेत दूसरे बड़े वाहन चंबा-टिहरी होकर श्रीनगर आ जा रहे है। श्रीनगर मार्ग बंद होने से डेढ़ से दो घंटे का अधिक समय भी लग रहा है। एनएच श्रीनगर डिवीजन के सहायक अभियंता वीएन द्विवेदी ने बताया कि चट्टान कटान कार्य पूरा कर लिया गया है। जबकि डामरीकरण का कार्य शुरू कर दिया गया है। जिसे इसी माह पूरा कर लिया जाएगा।