विधायक महेश नेगी और उन पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला के मोबाइल की सीडीआर (कॉल डिटेल रिकॉर्ड) मिल गई है। दरअसल, महिला ने पुलिस को दी गई तहरीर और मजिस्ट्रेट के समक्ष दिए बयान में आरोप लगाया है कि विधायक दो साल से भी ज्यादा वक्त से उसके संपर्क में हैं, जबकि विधायक ने इससे इंकार किया हैं। शनिवार को एसआइएस ने मसूरी के एक होटल और विधायक हॉस्टल के स्टाफ से भी पूछताछ की थी। महिला ने मजिस्ट्रेट के समक्ष दर्ज कराए गए बयान में मसूरी के होटल और विधायक हॉस्टल में दुष्कर्म किए जाने की बात कही थी। प्रारंभिक जांच में महिला के विधायक हॉस्टल जाने और उक्त होटल में विधायक के साथ होने की पुष्टि भी हो चुकी है।


पुलिस ने हकीकत का पता लगाने के लिए दोनों के मोबाइल नंबर की सीडीआर निकलवाई है। महेश नेगी अल्मोड़ा जिले की द्वाराहाट सीट से भाजपा के विधायक हैं और उन पर दुष्कर्म आरोप लगाने वाली महिला भी अल्मोड़ा की ही रहने वाली है। महिला का आरोप है कि दुष्कर्म के बाद वह गर्भवती हो गई और एक बच्ची को जन्म दिया। जिसके जैविक पिता महेश नेगी हैं। इस पर स्थिति स्पष्ट करने के लिए वह लगातार विधायक का अपनी बच्ची के डीएनए से मिलान कराने के लिए कह रही है। अब तक डीएनए मिलान नहीं कराया गया है, लेकिन पुलिस अन्य पहलुओं की गहनता से पड़ताल कर रही है। इसी क्रम में अब सीडीआर से पुलिस यह जानने का प्रयास करेगी कि विधायक और महिला कब से एक-दूसरे के संपर्क में थे। दोनों में कितनी बात होती थी और कब व कहां दोनों को लोकेशन एक रही।