त्रिवेणी घाट पर मंगलवार एक ही योजना का दो बार शिलान्यास हुआ। पहले विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल फिर मेयर अनिता ममगाई ने दल बल के साथ पहुंच कर कुंभ कार्य के अंतर्गत 1157.65 लाख रुपये की लागत से आस्था पथ का पुनरोद्धार एवं बाढ़ सुरक्षा निर्माण कार्यों का शिलान्यास किया। इस दौरान कार्यदायी संस्था सिंचाई विभाग के अधिकारी भी असहज नजर आए। शिलान्यास के दौरान विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा है कि सिंचाई विभाग द्वारा निर्मित आस्था पथ का पुनरोद्धार एवं बाढ़ सुरक्षा कार्य गुणवत्ता के साथ तय समय सीमा पर पूरे किए जाएं। कुंभ प्रारंभ होने से पूर्व विकास से संबंधित मोटर मार्ग, घाटों का सौंदर्यीकरण, स्नान ग्रह आदि तमाम कार्य पूरे किए जाएं। ताकि, कुंभ के दौरान श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। ऋषिकेश विधानसभा के हर क्षेत्र में मोटर मार्गों का निर्माण, विद्युत व्यवस्था, शुद्ध पेयजल आपूर्ति, सीवरेज आदि तमाम कार्य संचालित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा है कि विकास के कार्यों के लिए धन की कमी को आड़े नहीं आने दिया जाएगा।

शिलान्यास के दौरान मेयर अनिता ममगाईं ने कहा कि मुंबई के मैरीन ड्राइव की तर्ज पर ऋषिकेश में गंगा किनारे बना आस्था पथ 2013 की केदार आपदा के दौरान विभिन्न स्थानों पर बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया था, जिसके पुनरोद्धार के लिए नगर निगम प्रशासन की ओर से लगातार प्रयास किए जा रहे थे। प्रदेश सरकार की ओर से अब इसका पुनरोद्धार कुंभ मेला अंतर्गत कराया जाएगा। उन्होंने विश्वास जताया कि आगामी कुंभ से पूर्व आस्था पथ के जीर्णोद्धार का कार्य पूर्ण हो जाएगा। त्रिवेणी घाट पर कुंभ कार्य के तहत आस्था पथ का पुनरोद्धार एवं बाढ़ सुरक्षा निर्माण कार्यों के शिलान्यास कार्यक्रम में एक बार फिर भाजपा की गुटबाजी प्रत्यक्ष रूप से सामने आई। यहां शिलान्यास कार्यक्रम दो बार संपादित किया गया। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मंगलवार दोपहर 2.30 बजे विधानसभा अध्यक्ष एवं स्थानीय विधायक प्रेम चंद अग्रवाल द्वारा किया जाना था।