टिहरी गढ़वाल, नरेंद्रनगर के ग्रामसभा साल दोगी के अंतर्गत पीपल सारी नामे तोक निवासी सात वर्षीय बच्ची को गुलदार (तेंदुए) ने निवाला बना दिया। बीती देर रात मुकेश रावत की 7 वर्षीय पुत्री स्मृति शौच करने के लिए घर के बाहर आंगन में आई। इसी दौरान अचानक ही गुलदार ने उस पर हमला कर उसे घसीट कर ले गया।

वन विभाग की टीम आगराखाल पुलिस चौकी इंचार्ज हिम्मत सिंह साह के नेतृत्व में ग्रामीणों ने काफी खोजबीन की रात लगभग 12:30 बजे बालिका का शव घर से लगभग 700 मीटर दूर जंगल में क्षत-विक्षत हालत में मिला। घटना के बाद से गांव में दहशत और मातम पसरा है। 

आपको बता दें कि टिहरी जिले में बीते तीन माह पूर्व तेंदुए ने बहुत लोगों को निवाला बनाया था। मलेथा में घटित घटना को आज भी लोग भूले नही हैं। देवप्रयाग में बाइक सवार पर हमला हो या सोई हुई महिला पर हमला लोगों के मन में खौफ का माहौल आज तक है। वहीं देवप्रयाग में दिमागी तौर से पीड़ित युवक को निवाला बनाने के बाद गुलदार को ढेर कर दिया गया था। अब नरेंद्रनगर से इस प्रकार की खबर फिर से लोगों के लिए दहशत का माहौल बना रही है। इससे पूर्व जुलाई-अगस्त में प्रतापनगर में भी सात साल की बच्ची को गुलदार ने निवाला बनाया था। लोगों में इस घटना से वन विभाग के लिए आक्रोश है। ग्रामीणों ने वन विभाग से पिंजरा लगाने की मांग की है।