हल्द्वानी में जवान की घायल बेटी संग दुष्कर्म ।

 


उत्तराखंड भी घिनौने अपराध में लिप्त होता जा रहा है। मंडी में तैनात एक पीआरडी के जवान द्वारा किशोरी संग दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पीडि़ता खुद भी एक पीआरडी जवान की बेटी हैं। तीन दिन पहले इलाज के लिए वह पहाड़ से हल्द्वानी आई थी। मंडी क्षेत्र में हुई इस घटना के बाद परिजन पहले मंडी चौकी और फिर कोतवाली में शिकायत को पहुंचे।


पीआरडी के एक जवान की बेटी गांव में घास काटने के दौरान घायल हो गई थी। इलाज के लिए पिता ने उसे हल्द्वानी बुलाया और मंगलवार को शहर के एक निजी डाक्टर के वहां जांच भी कराई। गुरुवार शाम पिता रसोई में बेटी के लिए खाना बना रहे थे। इस बीच फतेहपुर निवासी पीआरडी का दूसरा जवान सुंदर लाल भी पहुंच गया। सुंदर की तैनाती मंडी के एंट्री गेट पर है। कभी-कभार वह मंडी के एक बड़े अफसर की गाड़ी भी चलाता है। पिता का कहना है कि बेटी कमरे में अकेली थी। और जब वह खाना बनाकर पहुंचा तो देखा कि सुंदर बेटी संग जबरदस्ती कर रहा था। शोर मचाने पर स्टाफ के अन्य लोग पहुंचे तो आरोपित फरार हो गया। जिसके बाद मामला चौकी और बाद में कोतवाली पहुंचा। वहीं, एसएसआइ कश्मीर सिंह ने बताया कि मामले में पीआरडी जवान पर पाक्सो के तहत मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। इधर, कनिष्ठ उपप्रमुख श्रीकांत पांडे ने कहा कि मामले की निष्पक्ष जांच कर दोषी के खिलाफ कड़ी कारवाई होनी चाहिए।


(BDO) Block Development Officer Vacancy Uttarakhand 2020
जाखणीधार ब्लॉक में गाँव व्यक्ति ने ही लूट ली महिला की इज्जत, गाँव के रिश्ते से महिला कहती है चाचा ।
Uttarakhand Education Department- 658 Vacancies
अगस्तमुनि से रुद्रप्रयाग जा रही बोलेरो हादसे का शिकार, सड़क पर ही पलट गई गाड़ी ।
श्रीनगर गढ़वाल में यूटिलिटी चालक ने स्कूटी सवार को कुचल डाला, युवक की मौत ।
कर्णप्रयाग में बोलेरो वाहन दुर्घटनाग्रस्त, एक की मौत दूसरा गम्भीर रूप से घायल ।
कौड़ियाला-तोताघाटी में 15 मीटर सड़क ढही, मरम्मत का कार्य जारी ।
पाकिस्तान की गोलाबारी में ऋषिकेश के राकेश डोभाल शहीद, परिवार का रो रोकर बुरा हाल ।
PMGSY RECRUITMENT 2020 UTTARAKHAND
कॉलेज की छात्रा से किया शादी वादा फिर तीन साल बनाए शाररिक सम्बन्ध, अब शादी के लिए चाहिए पांच लाख दहेज ।

यहां उत्तराखंड राज्य के बारे में विभन्न जानकारियां साँझा की जाती है। जिसमें नौकरी,अध्ययन,प्रमुख समाचार,पर्यटन, मन्दिर, पिछले वर्षों के परीक्षा प्रश्नपत्र, ऑनलाइन सहायता,पौराणिक कथाएं व रीति-रिवाज और गढ़वाली कविताएं इत्यादि सम्मिलित हैं। जो हर प्रकार से पाठकों के लिए उपयोगी है ।