उत्तराखंड भी घिनौने अपराध में लिप्त होता जा रहा है। मंडी में तैनात एक पीआरडी के जवान द्वारा किशोरी संग दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पीडि़ता खुद भी एक पीआरडी जवान की बेटी हैं। तीन दिन पहले इलाज के लिए वह पहाड़ से हल्द्वानी आई थी। मंडी क्षेत्र में हुई इस घटना के बाद परिजन पहले मंडी चौकी और फिर कोतवाली में शिकायत को पहुंचे।


पीआरडी के एक जवान की बेटी गांव में घास काटने के दौरान घायल हो गई थी। इलाज के लिए पिता ने उसे हल्द्वानी बुलाया और मंगलवार को शहर के एक निजी डाक्टर के वहां जांच भी कराई। गुरुवार शाम पिता रसोई में बेटी के लिए खाना बना रहे थे। इस बीच फतेहपुर निवासी पीआरडी का दूसरा जवान सुंदर लाल भी पहुंच गया। सुंदर की तैनाती मंडी के एंट्री गेट पर है। कभी-कभार वह मंडी के एक बड़े अफसर की गाड़ी भी चलाता है। पिता का कहना है कि बेटी कमरे में अकेली थी। और जब वह खाना बनाकर पहुंचा तो देखा कि सुंदर बेटी संग जबरदस्ती कर रहा था। शोर मचाने पर स्टाफ के अन्य लोग पहुंचे तो आरोपित फरार हो गया। जिसके बाद मामला चौकी और बाद में कोतवाली पहुंचा। वहीं, एसएसआइ कश्मीर सिंह ने बताया कि मामले में पीआरडी जवान पर पाक्सो के तहत मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। इधर, कनिष्ठ उपप्रमुख श्रीकांत पांडे ने कहा कि मामले की निष्पक्ष जांच कर दोषी के खिलाफ कड़ी कारवाई होनी चाहिए।