राजधानी देहरादून में बुधवार को आयोजित कैबिनेट बैठक में सरकारी कर्मचारियों के एक दिन की वेतन कटौती वापस लेने का फैसला ले लिया है। अब कोरोना कोष के लिए कर्मचारियों के वेतन से की एक दिन वेतन कटौती नहीं होगी। जबकि कोरोना कोष के लिए अब मुख्यमंत्री, मंत्री, विधायक, आईएएस, आईपीएस, व आईएफएस अफसरों के वेतन से एक दिन की वेतन कटौती जारी रहेगी।


बुधवार को सीएम त्रिवेंद्र रावत की अध्यक्षता में आयोजित कैबिनेट बैठक में निर्णय फैसला लिया गया है कि त्योहारों को देखते हुए कर्मचारियों के वेतन से एक दिन की कटौती नहीं की जाएगी। सरकार की ओर से कर्मचारियों का एक दिन का वेतन कोरोना कोष के लिए काटा जा रहा था। गौरतलब है कि प्रदेश में राज्य कर्मचारी लंबे समय से कोरोना कोष के लिए एक दिन की तनख्वाह ना काटे जाने की मांग कर रहे थे। आक्रोशित कर्मचारियों की ओर से वेतन कटौती के खिलाफ कई बार नाराजगी भी दर्ज कराई गई थी। अब कैबिनेट में मंजूरी के बाद सरकार ने सरकारी कर्मियों के एक दिन का वेतन वापिस का आदेश जारी कर दिया है।