प्रशासन की पब्लिक स्कूलों को दो टूक, हर हाल में खोलने होंगे दो नवंबर से स्कूल ।

 


दो नवंबर से स्कूल खोले जाने को लेकर सरकार की ओर से आदेश जारी किए गए हैं लेकिन निजी स्कूल कई दिक्कतों का हवाला देकर स्कूल खोलने को सहमत नहीं दिख रहे। पब्लिक स्कूलों का तर्क है कि 10वीं एवं 12वीं के बच्चों के लिए स्कूल खोले जाने पर शिक्षक ऑफलाइन और ऑनलाइन शिक्षण कार्य कैसे करेंगे।

इसी मुद्दे पर बुलाई गई बैठक में एडीएम प्रशासन कैलाश टोलिया ने सभी पब्लिक स्कूल संचालकों को स्पष्ट रूप से कहा कि सरकार के आदेश के अनुसार सभी स्कूल (कक्षा 10 व 12) अनिवार्य रूप से दो नवंबर से खोले जाएं, इसमें किसी तरह की हीलाहवाली बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अभिभावकों के लिए विकल्प है कि वे अपने बच्चों को ऑनलाइन शिक्षण करवाएं या स्कूल भेजें। इसकी व्यवस्था स्कूलों को करनी होगी। खंड शिक्षा अधिकारी हरेंद्र मिश्र ने कहा स्कूल स्तर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। स्कूल अपने संसाधनों के आधार पर खुद तय करेंगे कि कितने बच्चों को एक दिन में शिक्षण के लिए बुलाया जाए, कितनी पालियों में विद्यालय चलाएं, लेकिन गाइडलाइन का पूरी तरह पालन करना होगा।

आपको बता दें कि 02 नवम्बर से खुलने वाली कक्षाओं को लेकर निजी स्कूलों ने कहा था कि यदि 50% बच्चे स्कूल आएंगे तो ही कक्षाओं का संचालन होगा अन्यथा निजी स्कूल बन्द ही रहेंगे । इस मुद्दे पर हल्द्वानी में आयोजित बैठक में सरकार ने निजी स्कूलों के मनमाने रवैय्ये पर रोक लगाते हुए फैसला लिया है कि निजी स्कूलों को हर हाल में स्कूल खोलने होंगे और कोविड-19 के दिशा निर्देशों का पालन भी करना होगा । इतना ही नही, सभी स्कूलों को कोविड-19 की जागरुकता के लिए एक घण्टे का अलग कक्षा का संचालन भी करना होगा जिसमें बच्चों को कोविड-19 के बारे में जानकारी दी जाएगी ।


(BDO) Block Development Officer Vacancy Uttarakhand 2020
Uttarakhand Education Department- 658 Vacancies
अगस्तमुनि से रुद्रप्रयाग जा रही बोलेरो हादसे का शिकार, सड़क पर ही पलट गई गाड़ी ।
कर्णप्रयाग में बोलेरो वाहन दुर्घटनाग्रस्त, एक की मौत दूसरा गम्भीर रूप से घायल ।
 वर्ग-4 (सहयोगी/गार्ड) के पदों पर भर्ती, 23 दिसम्बर अंतिम तारीख ।
पाकिस्तान की गोलाबारी में ऋषिकेश के राकेश डोभाल शहीद, परिवार का रो रोकर बुरा हाल ।
मैक्सजीप खाई में जा गिरी, दो लोगों की मौके पर मौत ।
कॉलेज की छात्रा से किया शादी वादा फिर तीन साल बनाए शाररिक सम्बन्ध, अब शादी के लिए चाहिए पांच लाख दहेज ।

यहां उत्तराखंड राज्य के बारे में विभन्न जानकारियां साँझा की जाती है। जिसमें नौकरी,अध्ययन,प्रमुख समाचार,पर्यटन, मन्दिर, पिछले वर्षों के परीक्षा प्रश्नपत्र, ऑनलाइन सहायता,पौराणिक कथाएं व रीति-रिवाज और गढ़वाली कविताएं इत्यादि सम्मिलित हैं। जो हर प्रकार से पाठकों के लिए उपयोगी है ।