ऑलवेदर के नाम पर बना दिया खतरों से भरा हाईवे, ऊपर नीचे दोनों तरफ खड़ी है मौत ।

 


ऑलवेदर रोड परियोजना के कारण बदरीनाथ हाईवे कई जगहों पर जानलेवा बना हुआ है। गुलाबकोटी और भनेरपाणी में हाईवे बेहद संकरा होने से गुलाबकोटी में वाहनों का संचालन प्रशासन के लिए चुनौती बन गया है। यहां वाहनों की आवाजाही भी मुश्किल से हो पा रही है। गुलाबकोटी में ऊपर से चट्टान और नीचे से अलकनंदा बह रही है। बदरीनाथ हाईवे पर भनेरपाणी में चट्टानी भाग पर कटिंग कार्य चल रहा है। गुलाबकोटी में भी चट्टान के बड़े हिस्से को तोड़ा जा रहा है जिससे यहां आवाजाही में खतरा बना है।


जोशीमठ के एसडीएम अनिल चन्याल का कहना है कि गुलाबकोटी में सड़क दुरुस्त करने के लिए नेशनल हाईवे एंड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड ( एनएचआईडीसीएल) के अधिकारियों को कहा गया है। इन दिनों चारधाम परियोजना के तहत बदरीनाथ हाईवे पर युद्धस्तर पर चौड़ीकरण किया जा रहा है। ऐसे में यहां कई जगहों पर हाईवे बदहाल स्थिति में है। गुलाबकोटी में वाहनों की आवाजाही के लिए अन्य कोई वैकल्पिक मार्ग न होने के कारण यहां वाहनों का संचालन प्रशासन के लिए मुसीबत का सबब बना है। जबकि, एनएचआईडीसीएल के जीएम संदीप कार्की का कहना है कि गुलाबकोटी में दिसंबर माह तक चट्टान काटकर हाईवे चौड़ीकरण पूरा कर लिया जाएगा। भनेरपाणी में हाईवे के संकरे भाग पर डामरीकरण कर सुरक्षा के इंतजाम कर दिए गए हैं।


(BDO) Block Development Officer Vacancy Uttarakhand 2020
Uttarakhand Education Department- 658 Vacancies
अगस्तमुनि से रुद्रप्रयाग जा रही बोलेरो हादसे का शिकार, सड़क पर ही पलट गई गाड़ी ।
श्रीनगर गढ़वाल में यूटिलिटी चालक ने स्कूटी सवार को कुचल डाला, युवक की मौत ।
कर्णप्रयाग में बोलेरो वाहन दुर्घटनाग्रस्त, एक की मौत दूसरा गम्भीर रूप से घायल ।
PMGSY RECRUITMENT 2020 UTTARAKHAND
पाकिस्तान की गोलाबारी में ऋषिकेश के राकेश डोभाल शहीद, परिवार का रो रोकर बुरा हाल ।
 वर्ग-4 (सहयोगी/गार्ड) के पदों पर भर्ती, 23 दिसम्बर अंतिम तारीख ।
कॉलेज की छात्रा से किया शादी वादा फिर तीन साल बनाए शाररिक सम्बन्ध, अब शादी के लिए चाहिए पांच लाख दहेज ।
वन मंत्री हरक सिंह रावत के बुरे दिन, तीन माह की हुई सजा ।

यहां उत्तराखंड राज्य के बारे में विभन्न जानकारियां साँझा की जाती है। जिसमें नौकरी,अध्ययन,प्रमुख समाचार,पर्यटन, मन्दिर, पिछले वर्षों के परीक्षा प्रश्नपत्र, ऑनलाइन सहायता,पौराणिक कथाएं व रीति-रिवाज और गढ़वाली कविताएं इत्यादि सम्मिलित हैं। जो हर प्रकार से पाठकों के लिए उपयोगी है ।