दो पक्षों के बीच हुई कहासुनी के बाद एक पक्ष के घर में दबिश देने पहुंची पुलिस टीम पर आरोपियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी, पुलिस टीम का नेतृत्व एक प्रशिक्षु आईपीएस अधिकारी कर रहे थे। हालात इतने बिगड़ गए कि मौके पर आसपास के थानों की फोर्स बुलानी पड़ी, इसके बाद जाकर हालात को काबू में किया गया। इस मामले में पुलिस ने फायरिंग करने वाले एक ही परिवार के 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में एक महिला भी शामिल है।

बाजपुर के बरवाला गांव में यह वाक्य घटित हुआ है। बताया जा रहा है कि यहां रहने वाले संजीव पाठक पास में ही एक शादी समारोह में गए हुए थे। इसी शादी समारोह में उनके दो रिश्तेदार पहुंचे हुए थे, जिनके साथ उनकी पुरानी रंजिश थी। दोनों रिश्तेदारों के नाम विशाल शर्मा और तुषार शर्मा है। पुलिस के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार शादी समारोह में संजीव पाठक की विशाल शर्मा और तुषार शर्मा के साथ बहस हो गई। बहस के दौरान ही विशाल शर्मा और तुषार शर्मा ने संजीव पाठक की कनपटी पर पिस्टल तान दी।


पूरे हादसे के बाद संजीव पाठक पुलिस के पास पहुंचे और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद एक प्रशिक्षु आईपीएस अधिकारी सर्वेश पवार अपने साथ कुछ जवानों को लेकर विशाल और तुषार के घर पहुंचे। पुलिस की ओर से जब घर का दरवाजा खटखटाया गया तो अंदर से पुलिस टीम के ऊपर ताबड़तोड़ फायरिंग की गई। मौके पर हड़कंप मच गया, इसके बाद मौके पर आसपास के थानों की फोर्स बुलाई गई। तब जाकर कहीं हालात काबू में आए, घर में तलाशी के बाद पुलिस ने घर से 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में एक महिला भी है। मौके से कुछ हथियार भी बरामद किये गये हैं। आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आगे की कारवाई की जा रही है।