स्कूल खुलने के पहले दिन ही स्कूल पहुंचा 12वीं का छात्र निकला कोरोना संक्रमित, स्कूल में हड़कम्प मचा ।


 

यह खबर उत्तराखंड के रानीखेत से आ रही हैं। जहां 02 नवम्बर सुबह विद्यालय पहुंचने पर सभी बच्चों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई। सभी का तापमान ठीक मिलने पर छात्र-छात्राओं को कक्षाओं में प्रवेश दिया गया। इसी बीच शिव मंदिर क्षेत्र के 12वीं (सी) कक्षा के छात्र के परिजनों का फोन आया कि वह लोग कोरोना जांच कराने गए हैं, बच्चे की भी जांच करानी है इसलिए उसे भी अस्पताल भेज दिया जाए।


सोमवार को स्कूल खुलने के बाद उत्तराखंड के रानीखेत में एक अर्द्ध सरकारी स्कूल के बच्चे के कोरोना संक्रमित मिलने से हड़कंप मच गया। सूचना पर विद्यालय पहुंची संयुक्त मजिस्ट्रेट अपूर्वा पांडे ने तत्काल प्रभाव से विद्यालय को तीन दिन के लिए बंद करा दिया। कक्षा में सभी 15 छात्र छात्राओं को होम आइसोलेट कर दिया गया है। उनकी भी कोरोना जांच की जाएगी। प्रधानाचार्य सुनील मसीह ने बताया कि अभिभावकों ने ही सुबह लिखित अनुमति के बाद छात्र को स्कूल भेजा था। रैपिड टेस्ट में दोनों अभिभावकों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद छात्र की जांच की गई तो वह भी पॉजिटिव निकला। संयुक्त मजिस्ट्रेट अपूर्वा पांडेय ने बताया कि संक्रमित छात्र और कक्षा में बैठे 15 अन्य विद्यार्थियों को भी होम आइसोलेशन में रखने के निर्देश दिए गए हैं।


(BDO) Block Development Officer Vacancy Uttarakhand 2020
Uttarakhand Education Department- 658 Vacancies
अगस्तमुनि से रुद्रप्रयाग जा रही बोलेरो हादसे का शिकार, सड़क पर ही पलट गई गाड़ी ।
श्रीनगर गढ़वाल में यूटिलिटी चालक ने स्कूटी सवार को कुचल डाला, युवक की मौत ।
कर्णप्रयाग में बोलेरो वाहन दुर्घटनाग्रस्त, एक की मौत दूसरा गम्भीर रूप से घायल ।
कौड़ियाला-तोताघाटी में 15 मीटर सड़क ढही, मरम्मत का कार्य जारी ।
PMGSY RECRUITMENT 2020 UTTARAKHAND
पाकिस्तान की गोलाबारी में ऋषिकेश के राकेश डोभाल शहीद, परिवार का रो रोकर बुरा हाल ।
कॉलेज की छात्रा से किया शादी वादा फिर तीन साल बनाए शाररिक सम्बन्ध, अब शादी के लिए चाहिए पांच लाख दहेज ।
 वर्ग-4 (सहयोगी/गार्ड) के पदों पर भर्ती, 23 दिसम्बर अंतिम तारीख ।

यहां उत्तराखंड राज्य के बारे में विभन्न जानकारियां साँझा की जाती है। जिसमें नौकरी,अध्ययन,प्रमुख समाचार,पर्यटन, मन्दिर, पिछले वर्षों के परीक्षा प्रश्नपत्र, ऑनलाइन सहायता,पौराणिक कथाएं व रीति-रिवाज और गढ़वाली कविताएं इत्यादि सम्मिलित हैं। जो हर प्रकार से पाठकों के लिए उपयोगी है ।