उत्तराखंड रोडवेज की दिल्ली रूट पर बड़ी संख्या में वाल्वो और एसी बसें भी चलती थीं, लेकिन अभी तक इन बसों की मांग नहीं थी। जिस कारण रोडवेज हाईटेक बसों का संचालन शुरू नहीं कर पा रहा था। अब अंतरराष्ट्रीय परिवहन खुलने के बाद रोडवेज दिवाली तक वॉल्वो और एसी बसों का संचालन भी शुरू कर देगा। उत्तराखंड के यात्रियों के साथ ही रोडवेज के लिए भी अच्छी खबर है। देश की राजधानी दिल्ली में अंतरराष्ट्रीय परिवहन को मंजूरी मिल गई है। अब उत्तराखंड की बसें सीधे दिल्ली के आनंद विहार और कश्मीरी गेट बस अड्डे तक जा सकेंगी। दिल्ली में अंतरराज्यीय परिवहन खुलने के बाद उत्तराखंड से दिल्ली के लिए 100 बसें रोज बढ़ सकती हैं। इसके साथ ही रोडवेज की 50 लाख रुपये आय बढ़ने की उम्मीद है।


कोरोना संकट के चलते दिल्ली में अंतरराष्ट्रीय परिवहन बंद था। दिल्ली में अभी तक बसों में 50 फीसदी सवारी बिठाने की अनुमति थी, लेकिन अब त्योहारी सीजन को देखते हुए दिल्ली सरकार ने सवारी क्षमता सामान्य करते हुए अंतरराष्ट्रीय परिवहन को भी मंजूरी दे दी है। अब देश के सभी राज्यों से दिल्ली बसें आवागमन कर सकेंगी। उत्तराखंड रोडवेज की बसें भी अब सीधे कश्मीरी गेट और आनंद विहार बस अड्डे तक जाएंगी। अभी तक उत्तराखंड से दिल्ली के लिए करीब 200 बसें चल रही थीं। यह सभी बसें दिल्ली की सीमा से लगे यूपी रोडवेज के कौशांबी बस अड्डे तक जा रही थीं। इससे यात्रियों को परेशानी हो रही थी।