उत्तराखंड में सीजन की पहली बर्फबारी से उच्च हिमालय क्षेत्र सफेद चादर ओढ़ हिममग्न हो गया है । बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के आसपास की पहाड़ि‍यों पर बर्फबारी हुई। केदारनाथ धाम में भी देर शाम हल्का हिमपात हुआ। यहां दो इंच तक बर्फ जमी हुई है। रविवार को भी धाम में बर्फ गिरी थी। मौसम में आए बदलाव से धामों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। मौसम विभाग के अनुसार यह सिलसिला मंगलवार को भी बना रहेगा। वहीं, आज मसूरी में मौसम साफ है और धूप खिली हुई है। सुबह तापमान 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। उधर, चारधाम यात्रा जारी है।


बदरीनाथ और केदारनाथ धाम के कपाट बंद होने की तिथि नजदीक आने के साथ ही श्रद्धालुओं की तादाद बढ़ रही है। मौसम में आया बदलाव श्रद्धालुओं की परीक्षा ले रहा है। इन दिनों बदरीनाथ धाम में न्यूनतम तापमान शून्य से एक डिग्री नीचे है, वहीं अधिकतम तापमान करीब नौ डिग्री सेल्सियस है। जबकि केदारनाथ में न्यूनतम तापमान शून्य से दो डिग्री कम और अधिकतम छह से सात डिग्री सेल्सियस के बीच है। सुबह-शाम पाला जमने से वाहनों के लिए भी दिक्कत बढ़ गई है। बदरीनाथ धाम में यात्रियों के लिए नगर पंचायत ने अलाव की व्यवस्था की है। जोशीमठ के उप जिलाधिकारी अनिल चन्याल ने बताया कि धाम में तीन हजार तक यात्रियों के ठहरने की व्यवस्था है। यदि संख्या बढ़ी तो यात्रियों को जोशीमठ में ठहराया जाएगा।