सरकार ने 10वीं और 12वीं के छात्र-छात्राओं को स्कूल जाने वाले फैसले को कोरोना के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए वापस ले लिया है । हालांकि स्कूल खोलने के फैसले के बाद भी बहुत कम अभिभावकों ने अपने छात्रों को स्कूल भेजा, वहीं बीच में दीपावली और उसके बाद कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब राज्य सरकार की तरफ से नए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं।



अब दसवीं और बारहवीं कक्षा के छात्र छात्राओं को लेकर भी सरकार की ओर से नए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। नई दिशा निर्देश में कहा गया है कि कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब 10वीं और 12वीं के छात्रों को भी स्कूल नहीं जाना होगा, 2 दिसंबर से दसवीं और बारहवीं के छात्रों की पढ़ाई वर्चुअल माध्यम से होगी।



नये आदेश में राज्य के सभी 500 राजकीय विद्यालयों के प्रधानाचार्य को कहा गया है कि वह 2 दिसंबर से कक्षा 10 और कक्षा बारहवीं की वर्चुअल क्लासेस सुबह 10:00 से 12:00 तक आयोजित करें। यह कक्षाएं ऑनलाइन आयोजित किए जाएंगे, इन कक्षाओं के जरिए कठिन विषय जैसे भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, गणित, जीव विज्ञान आदि की पढ़ाई होगी। आदेश में यह भी कहा गया है कि यह कक्षाएं सोमवार से शुक्रवार तक आयोजित की जाएंगी। वहीं शनिवार और रविवार को जेईई और नीट परीक्षा की कोचिंग की कक्षाएं भी वर्चुअल माध्यम से आयोजित की जाएंगी।