आम आदमी पार्टी ने उत्तराखंड में सियासी पारा गरमा दिया है। आम आदमी पार्टी उत्तराखंड में कांग्रेस, बीजेपी और यूकेडी के संगठनों में सेंधमारी करने में सफल होती नजर आ रही है। देवप्रयाग से गणेश भट्ट को आप में शामिल करने के बाद अब आम आदमी पार्टी लंबे समय से भाजपा के चमोली जिलाध्यक्ष रहे विनोद कपरुवाण को अपने कुनबे में शामिल करने सफल हुई है।


दिल्ली में आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने विनोद कपरुवाण, बीएस नेगी सहित कपरुवाण के समर्थकों को आप की सदस्यता दिलाई। गौरतलब है कि किसी समय उत्तराखंड बीजेपी में खण्डूरी खेमे के खास माने जाने वाले विनोद कपरुवाण चमोली में बीजेपी के जिलाध्यक्ष और उत्तराखंड भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं। गढ़वाल विश्विद्यालय में सीनेट के मैम्बर रहे कपरुवाण बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के सदस्य सहित कई अहम पदों पर दायित्व निभा चुके हैं। स्पोटर्स मैन के तौर पर पहचान रखने वाले कपरुवाण कई बार बॉलीबाल टूर्नामेंट में उत्तर भारत का प्रतिनिधित्व भी कर चुके हैं।

बीजेपी पर किसानों की अनदेखी करने और कर्मचारियों के साथ तानाशाही रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए विनोद कपरुवाण ने कहा कि बीजेपी की करनी और कथनी में बहुत अंतर आने की वजह वो बीजेपी छोड़ आम आदमी पार्टी में शामिल हुए है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक विनोद कपरुवाण समय-समय पर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगाते रहे हैं जिसके चलते बीजेपी संगठन और सरकार में विनोद कपरुवाण निशाने पर आ गए थे। आम आदमी पार्टी उत्तराखंड के रणनीतिकारों ने विनोद कपरुवाण की नाराजगाी को भुनाने की भरसक कोशिश की। कपरुवाण के आप में शामिल होने से बीजेपी को गढ़वाल मंडल खासतौर पर चमोली और देहरादून में तगड़ा झटका लगा है।