आम आदमी पार्टी द्वारा उत्तराखंड, कोटद्वार में आगामी 20 दिसम्बर से 2 जनवरी तक होने वाली सेना की भर्ती में कोविड-19 बीमारी के प्रमाण पत्र को लेकर प्रेस वार्ता की गयी। आम आदमी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष ने कोविड-19 के खतरे को लेकर कहा कि कोविड-19 के खतरे को देखकर सेना के भर्ती कार्यालय लैंसडाउन ने जो दिशा निर्देशों के अनुसार हर अभ्यर्थी को सरकारी डॉक्टर द्वारा कोरोना लक्षण रहित का मेडिकल सर्टिफिकेट 48 घंटे पूर्व में जमा करना जरूरी है जिस सर्टिफिकेट में इस बात की पुष्टि होनी चाहिए कि अभ्यर्थी को कोई भी कोविड-19 के लक्षण नहीं हैं ।



आम आदमी पार्टी के उपाध्यक्ष का कहना है कि सेना की भर्ती के लिए अभ्यर्थी दूर दराज क्षेत्रों से आते हैं । उन सभी के लिए सरकारी डॉक्टरों की सुविधा उपलब्ध नहीं है तथा अभ्यर्थियों के लिए कोरोना लक्षण न होने का प्रमाणपत्र जारी करने की इस स्तर पर सुविधा सरकारी अस्पताल मेंं भी उपलब्ध नहीं है, कि अभ्यर्थी जाएं और अपना कोरोना के लक्षण न होने का प्रमाण पत्र आसानी से ले सकें।


उपाध्यक्ष ने कहा कि जो अभ्यर्थी कोविड-19 के लक्षणोंं से मुक्त है उसको 48 घंटे पहले उसके नजदीकी सरकारी अस्पताल से कोरोना लक्षण न होने के मेडिकल सर्टिफिकेट जारी किये जाए ताकि अभ्यर्थियों को निरर्थक परेशानी न उठानी पड़े।