पूर्व डिप्टी स्पीकर डॉ अनसुइया प्रसाद मैखुरी का आज निधन हो गया । आपका सरल और विनम्र स्वभाव समाज के हर वर्ग के लोगों के दिलो पर राज करता था । आपने राजनीतिक व सामाजिक विचारधारा के व्यक्ति थे । क्षेत्र में अपनी अमिट छाप छोड़ी ।


आप वर्ष 2002 से लेकर 2012 तक उत्तराखंड विधानसभा के सदस्य रहे । आप काँग्रेस पार्टी के मजबूत स्तम्भ थे । अनुसूइया प्रसाद मैखुरी 2012 से 2017 तक उत्तराखंड विधानसभा के उपाध्यक्ष रह चुके हैं । इसके साथ ही वो दो बार विधायक भी चुने गए थे । 2002 में उन्होंने बद्रीनाथ विधानसभा से चुनाव जीता था । उन्होने केदार सिंह फोनिया को हराया था । इसके बाद 2012 में वो कर्णप्रयाग से चुन कर आए थे । अनूसुइया प्रसाद मैखुरी अपने पूरे जीवन भर राजनीतिक संघर्ष करते रहे । ब्लाक स्तर से लेकर विधायक बनने तक उनकी लोकप्रियता हर बार बढ़ती गई ।


सूत्रों के अनुसार कुछ दिनों पहले उन्हें कोरोना ने अपने संक्रमण की चपेट में लिया था । इसके बाद वो ठीक हुए लेकिन कुछ दिनों पहले उनकी हालत फिर बिगड़ी । इसके बाद उन्हें देहरादून स्थित मैक्स अस्पताल में एडमिट किया गया जहां उनका उपचार चल रहा था लेकिन शनिवार को उनका निधन हो गया ।