भाजपा विधायक महेश नेगी का डीएनए टेस्ट, पीड़िता की पुत्री के साथ होगा मिलान ।



द्वारहाट सीट से भाजपा विधायक महेश नेगी पर महिला ने अगस्त 2020 को आरोप था कि विधायक ने उसका यौन उत्पीड़न किया है । इसके बाद विधायक की पत्नी ने पीड़ित महिला के खिलाफ उनके पति की छवि खराब करने और पैसों के लालच में मुकदमा दर्ज करवाया था । जाँच के दौरान पीड़िता द्वरा बताए गये सभी ठिकानों पर विधायक की महिला के साथ मौजूदगी से विधायक नेगी की मुश्किलें बढ़ गई और उन्होंने बीमारी का बहाना कर खुद को गुरुग्राम के एक हस्पताल में भर्ती होने की बात कही ।


काफी लंबे संघर्ष के बाद अब मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की कोर्ट ने दुष्कर्म के आरोप में घिरे अल्मोड़ा जिले की द्वाराहाट सीट से भाजपा विधायक महेश नेगी का डीएनए टेस्ट कराने की अनुमति दे दी है। आज गुरुवार को विधायक और पीड़िता के पुत्री के खून के नमूने लिए जाएंगे । महिला का दावा है कि विधायक महेश नेगी ही उसकी पुत्री के जैविक पिता हैं।


मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट विवेक श्रीवास्तव ने डीएनए टेस्ट की अनुमति देते हुए आदेश निर्गत किया है कि विधायक महेश नेगी और पीड़िता की पुत्री के खून के नमूने गुरुवार को न्यायालय के समक्ष लिए जाएं। इसके लिए उन्होंने दून अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक को सुबह 11 बजे न्यायालय में चिकित्सकों की टीम उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।


इस मामले में बीती छह सितंबर को कोर्ट के आदेश पर विधायक और उनकी पत्नी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। हालांकि, महिला दून पुलिस की जांच से असंतुष्ट थी और लगातार सीबीआइ से जांच करवाने की मांग कर रही थी। इसको देखते हुए पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र ने बीती 17 नवंबर को प्रकरण की जांच दून पुलिस से हटाकर पौड़ी पुलिस को सौंप दी। अब प्रकरण की जांच श्रीनगर महिला थानाध्यक्ष दीक्षा सैनी कर रही हैं।

 हमारा "पहाड़ समीक्षा" समाचार मोबाइल एप्प प्राप्त करें ।



उत्तराखंड - ताजा समाचार

यहां उत्तराखंड राज्य के बारे में विभन्न जानकारियां साँझा की जाती है। जिसमें नौकरी,अध्ययन,प्रमुख समाचार,पर्यटन, मन्दिर, पिछले वर्षों के परीक्षा प्रश्नपत्र, ऑनलाइन सहायता,पौराणिक कथाएं व रीति-रिवाज और गढ़वाली कविताएं इत्यादि सम्मिलित हैं। जो हर प्रकार से पाठकों के लिए उपयोगी है ।