आवेदन करने के बाद कनेक्शन मिलने तक पेयजल निगम के क्षेत्रीय कार्यालय के कई चक्कर काटने पड़ रहे हैं। यह स्थिति राज्य की राजधानी देहरादून में पेश आ रही है तो फिर पहाड़ी क्षेत्रों को 10 रुपये या 01 रुपये में पानी का कनेक्शन मिल जाएगा इस पर कैसे भरोसा कर लें। 10 रुपये के कनेक्शन लेने के लिए जो विभागों के चक्कर काटने पर रुपया खर्च होगा क्या मुख्यमंत्री जी उसका भुगतान भी करेंगे ।


मेहूंवाला क्लस्टर योजना में आने वाले क्षेत्रों में नया पेयजल कनेक्शन लेने में उपभोक्ताओं के पसीने छूट रहे हैं। अब क्षेत्रवासियों ने पेयजल निगम के अधिशासी अभियंता सीताराम से पत्र के माध्यम से इसकी शिकायत की है। अधिशासी अभियंता की ओर से इस समस्या के शीघ्र समाधान का आश्वासन दिया गया है। इस पत्र में लिखा गया है कि उपभोक्ताओं को सेवा के अधिकार अधिनियम के तहत समय पर नए कनेक्शन उपलब्ध नहीं कराए जा रहे। उन्हें नया कनेक्शन लेने को किए गए आवेदन की रसीद प्राप्त करने के लिए भी भटकना पड़ रहा है। रसीद के लिए कई आवेदक पिछले 15 दिन से पेयजल निगम के क्षेत्रीय कार्यालय के चक्कर काट रहे हैं।


मोहनपुर, स्मिथनगर, श्यामपुर, पीतांबरपुर, बनियावाला, बड़ोवाला, गोरखपुर, ठाकुरपुर, अंबीवाला आदि क्षेत्रों में रहने वाले ज्यादातर परिवार सैनिकों के हैं, जिनके घर में अधिकांश महिलाएं ही हैं। ऐसे में महिलाओं को ही बार-बार कार्यालय की दौड़ लगानी पड़ रही है। अब क्षेत्रीय जनता ने मांग की है कि उपभोक्ताओं को आवेदन करते समय ही रसीद देकर कनेक्शन देने की प्रक्रिया जल्द से जल्द पूरी की जाए।