एक प्याली चाय के लिए छोटे भाई में बड़े भाई की गर्दन दरांती से काट मौत के घाट उतारा ।

 


खबर पिथौरागढ़ से आ रही हैं जहां नेपाल सीमा से लगे एक छोटे से तोक गाँव में छोटे भाई ने चाय नहीं देने पर अपने बड़े भाई की दराती से गला काट कर हत्या कर दी । यह गांव तहसील कनालीछीना के अंतर्गत आता है । आरोपी ने निकट के गांव की दुकान में गए पिता के पास जाकर बड़े भाई की हत्या करने की बात खुद ही बताई।


गांव में विशन सिंह और उसके दो लड़के गोपाल सिंह और चंद्र सिंह का परिवार रहता है। घर में केवल तीन लोग ही रहते हैं। रविवार शाम पिता विशन सिंह निकट के मदी गांव स्थित दुकान में घर का सामान खरीदने गया था। क्षेत्र के पटवारी शंकर दत्त्त कापड़ी से मिली जानकारी के अनुसार इस दौरान बड़े भाई गोपाल सिंह ने अपने लिए चाय बनाई । छोटे भाई चंद्र सिंह को चाय नहीं दी।


अपने को चाय नहीं दिए जाने से छोटा भाई चंद्र सिंह 28 वर्ष आक्रोशित हो गया। इतनी सी बात पर चन्द्र सिंह इतना आवेश में आया कि उसने घर में ही घास काटने वाली दराती से अपने बड़े भाई गोपाल सिंह 32 वर्ष के गले में वार कर दिया। गले में किए गए एक ही वार में गोपाल सिंह की मौत हो गई। बड़े भाई की हत्या करने के बाद हत्यारोपी सीधे अपने पिता विशन सिंह के पास गया और बड़े भाई द्वारा चाय नहीं दिए जाने पर उसकी हत्या करने की बात बताई ।

पिता खबर सुनते ही घर की तरफ दौड़ा, लेकिन तब तक वहाँ गाँव के अन्य लोग भी एकत्रित हो गये थे । यह देख चन्द्र सिंह भागने की फिराक में था लेकिन ग्रामीणों ने उसको पकड़ लिया । सूचना मिलने पर लगभग 25 किमी दूर अस्कोट थाने से पुलिस देर सायं मौके पर पहुंची है। सायं लगभग साढ़े आठ बजे पुलिस ने हत्यारोपी युवक को अपनी गिरफ्त में ले लिया है।

क्षणभर का क्रोध और पूरे परिवार का अंत, भले वह अपने बड़े भाई की हत्या न भी करना चाहता रहा हो लेकिन एक पल के क्रोध के आगे जो त्रास पिता को देखना पड़ा वह असहनीय है । एक प्याली चाय में किसी की मौत निहित थी तो किसी की जेल और पिता का ये दिन देखना बाकी ।


 हमारा "पहाड़ समीक्षा" समाचार मोबाइल एप्प प्राप्त करें ।



उत्तराखंड - ताजा समाचार

यहां उत्तराखंड राज्य के बारे में विभन्न जानकारियां साँझा की जाती है। जिसमें नौकरी,अध्ययन,प्रमुख समाचार,पर्यटन, मन्दिर, पिछले वर्षों के परीक्षा प्रश्नपत्र, ऑनलाइन सहायता,पौराणिक कथाएं व रीति-रिवाज और गढ़वाली कविताएं इत्यादि सम्मिलित हैं। जो हर प्रकार से पाठकों के लिए उपयोगी है ।