इंसान के साथ कब क्या हो जाए कुछ कहा नही जा सकता है । मकान के लिए बजरी निकालने गये दो युवकों के साथ कंडवाल गांव घटित घटना ने घर बनाने की खुशियों की जगह मातम और दुःख दे दिया । कंडवाल गांव में पहाड़ी खोदकर बजरी निकाल रहे एक युवक की पत्थरों के नीचे दबकर मौत हो गई, जबकि एक अन्य युवक घायल हो गया।


ग्राम प्रधान पिंकी देवी ने बताया कि कंडवाल गांव में मोहन प्रसाद पुरोहित के मकान निर्माण के लिए गांव के सुनील कंडवाल और रोहित कंडवाल पहाड़ी खोदकर बजरी निकाल रहे थे। इसी दौरान पहाड़ी दरक गई और दोनों युवक पत्थरों के नीचे दब गए।


कुछ देर बाद स्थानीय लोगों ने मौके पर पहुंचकर दोनों को मलबे से बाहर निकाला, लेकिन तब तक रोहित कंडवाल (22), पुत्र परमानंद कंडवाल की मौत हो चुकी थी। जबकि मकान मालिक का पुत्र सुनील कंडवाल (20) घायल हो गया। सुनील को ग्रामीण पीएचसी नारायणबगड़ ले गए। प्राथमिक उपचार के बाद उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया।