आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया की ओर से उत्तराखंड सरकार की उपलब्धियों को लेकर बहस की चुनौती को भाजपा ने खारिज करते हुए जोरदार पलटवार किया। प्रदेश भाजपा के मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक मुन्ना सिंह चौहान ने कहा कि आप का उत्तराखंड में न कोई वजूद है और न उसके नेता इस लायक कि उनकी किसी बात का जवाब दिया जा सके। आपको बता दें की पहले भाजपा नेता मदन कौशिक ने बहस की चुनौती स्वीकार की थी लेकिन 04 जनवरी को मदन कौशिक विकास मुद्दे पर बहस के लिए नही पहुंचे ।

भाजपा विधायक मुन्ना चौहान मनीष सिसोदिया की हर बात पर बौखलाए नजर आये और उन्होंने मनीष सिसोदिया और दिल्ली सरकार को जमकर कोषा । चौहान ने कहा कि डोईवाला क्षेत्र के जिस विद्यालय में सिसोदिया गए, उससे सटे ही पूर्व माध्यमिक विद्यालय की स्थिति दिल्ली के सरकारी स्कूलों से कहीं बेहतर है। फिर भी उन्हें यह नजर नहीं आया। दिल्ली के सरकारी स्कूलों को निजी स्कूलों से बेहतर बताने संबंधी सिसोदिया के बयान पर चौहान ने कहा कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री को अपनी जानकारी ठीक करनी चाहिए। उत्तराखंड के बच्चे सरकारी स्कूलों से निकलकर फौज में अफसर बने हैं। आइएएस, आइपीएस, आइआइटी, मेडिकल समेत अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता अर्जित कर रहे हैं। अच्छे ओहदों पर देश की सेवा कर रहे हैं। लिहाजा, उत्तराखंड आकर आप नेता अपनी अराजकता और अज्ञानता की ब्राडकास्टिंग न करें।