उत्तरकाशी में करीब 11 बजकर 27 मिनट पर भूकम्प के झटके महसूस हुए, जिनकी रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 3.3 मापी गई। झटके महसूस होने के बाद लोग दहशत में आ गए। व्यापारी और ग्रामीण अपने प्रतिष्ठानों और घरों से बाहर निकल आए। उत्तराखंड को भूकंप के लिहाज से संवेदनशील माना जाता है। यहां अक्सर भूकंप के झटके महसूस होते हैं।

आपको बता दें कि एक दिन पहले ही शुक्रवार को बागेश्वर जिले में भूकंप आया था। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.3 मापी गई। 10 से 15 सेकंड तक झटके महसूस हुए। इस दौरान लोग घरों से बाहर निकल आये। भूकंप का केंद्र बागेश्वर ही बताया जा रहा है। इससे नुकसान किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ। दो दिन में दो बार राज्य की धरती कांप उठी है। जहां शुक्रवार को बागेश्वर में झटके महसूस हुए तो वहीं शनिवार को उत्तरकाशी जिले में भूकंप आया। नेशनल सेंटर फॉर सिस्‍मोलॉजी के मुताबिक भूकंप का केंद्र उत्तरकाशी में ही था, जो दस किलोमीटर की गहराई में था।