गढ़रत्न लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी को साइबर जाल में लपेटने की कोशिश कर रहे शातिर को आखिर पुलिस ने दबोच लिया। आपको बता दें कि युवक ने लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी से 20 हजार रुपये की फिरौती मांगी। कई बार समझाने पर भी जब युवक नहीं माना तो नरेंद्र सिंह नेगी को पुलिस में शिकायत दर्ज करानी पड़ी। मामले की गम्भीरता को समझते हुए पुलिस ने त्वरित कारवाई की तो युवक पकड़ा गया। पकड़े जाने के बाद मालूम हुआ कि युवक अभी नाबालिग है और उसकी उम्र महज 17 वर्ष है।

गढ़रत्न लोकगायक चाहते तो युवक को बाल बंदी गृह में सुधार के लिए भेजा जा सकता था लेकिन लोकगायक नेगी ने दरियादिली दिखाई और नासमझ को माफ कर दिया। उन्होंने बच्चे को छोड़ देने के लिए बाकायदा एक पत्र लिखा जिसमें उन्होंने बच्चे की कम उम्र और उसका भविष्य देखते हुए उसको माफ करने की बात भी कही। शायद वो नासमझ ही है क्योंकि उसको नही पता कि उसकी इस हरकत का अंजाम कितना बुरा हो सकता था। नेगी ने उत्तराखंड के लोकगायक के रूप में जो ख्याति प्राप्त की है उसकी जगह लेना इतना आसान नही है। कई दशकों से उत्तराखंड के हर उम्र के लोगों के दिलों पर आज भी नेगी दा के गाने राज करते हैं। ऐसे में एक नादान बच्चे को माफ करके नेगी दा ने जो बड़ा दिल दिखाया, यही उनकी लोकगायन में महानता को दर्शाता है।

दरअसल नेगी दा ने इस पूरे घटना का खुलासा पत्र के माध्यम से इस प्रकार से किया, साथियों मुझे ये देखकर बहुत दुख हुआ कि पहाड़ के कुछ असंस्कारी बच्चे साइबर क्राइम से हम कलाकारों को ब्लैकमेल कर रहे हैं। कुछ दिन पहले पौड़ी जिले के 17 साल के इंटर में पढ़ने वाले छात्र ने मेरे नए गीत ‘कुछ त बात होली’ को कॉपी कर के अपने चैनल में पोस्ट कर दिया। साथ ही युवक ने धमकी भी दी कि मेरे बैंक अकाउंट में 20 हजार रुपये जमा कराओ, वरना मैं इस गीत को कॉपी कर के 25-30 फर्जी अकाउंट में अपलोड कर दूंगा।

नेगी जी ने उसको बहुत समझाया कि आप ऐसा मत करो। लेकिन युवक नही माना, तो मजबूर होकर पुलिस से युवक की शिकायत करनी पड़ी। पुलिस जब युवक को पकड़ लाई तो उसकी उम्र को देखते हुए नेगी दा ने उसे माफ कर दिया। युवक ने माफीनामा लिखकर दिया और कहा कि भविष्य में इस प्रकार की हरकत दोबारा नही करेगा। लोकगायक नेगी दा ने भावुक शब्दों में कहा कि एक गीत को स्टूडियों में रिकॉर्ड करने से लेकर आउटडोर शूटिंग और एडिटिंग में हम कलाकारों को काफी रुपये खर्च करने पड़ते हैं। तब जाकर कोई गीत आप लोगों तक पहुंचता है। उन्होंने कहा कि दूसरे के गीतों को चोरी कर अपने सोशल चैनलों को चमकाने वाले लोगों को इस प्रकार के कार्य नही करने चाहिए।