प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल पर शुरू किए गए आर्टिफिशियल इंटेलीजेंसी (कृत्रिम बुद्धिमता) प्रोग्राम को देश भर में चलाया जा रहा है। इस कड़ी में उत्तराखंड के तीन होनहारों ने इस प्रोग्राम में सफलता हासिल की है। प्रोग्राम के तहत टिहरी गढ़वाल के एक छात्र और दो छात्राओं के कांसेप्ट चयनित किए गए हैं। पूरे भारत से 51 हजार छात्र-छात्राओं ने इस प्रोग्राम में अपनी भागीदारी दिखाई थी जिसमें से मात्र 100 छात्रों के मॉडल चयनित किए गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रोग्राम आर्टिफिशियल इंटेलीजेंसी के तहत नेशनल ई गर्वनेंस डिविजन की तरफ से आयोजित इस प्रोग्राम के लिए टिहरी के राइंका केसरधार नैचोली में कक्षा 11 की स्वाती रावत और मानसी रावत ने कंप्यूटर की मदद से मेकअप के दौरान हाई मिरर का कांसेप्ट तैयार किया। इस प्रोग्राम में कोई भी महिला कंप्यूटर की स्क्रीन पर जाकर अपने चेहरे के रंग और उसकी प्रकृति के बारे में जानकारी ले सकता है। जिसके बाद महिला अपने रंग और त्वचा की प्रकृति के हिसाब से मेकअप करा सकती है।

जबकि कक्षा नौ के अखिलेश उनियाल ने कंप्यूटर के माध्यम से कृषि में मदद के लिए मौसम की सटीक जानकारी देने वाला कंप्यूटर प्रोग्राम बनाने का कांसेप्ट तैयार किया। आपको बता दें कि प्रोग्राम जमा होने के बाद 12 जनवरी को परिणाम सार्वजनिक किए गये जिसमें तीनों होनहार बच्चों को जगह मिली। तीनों छात्र-छात्राओं के चयन पर स्कूल में खुशी का माहौल है। स्कूल के गणित प्रवक्ता जगदंबा डोभाल ने बताया कि अब तीन महीने तक इन बच्चों को ऑनलाइन कोचिंग दी जाएगी जिसके बाद यह अपने इन कांसेप्ट पर मॉडल तैयार करेंगे।