उत्तराखंड में वर्षों से चल रहे नेशनल हाईवे सड़कों पर किसी प्रकार का टोल टैक्स नही वसूला जाता था लेकिन वर्तमान सरकार ने इन्ही सड़कों को कमाई का जरिया बना लिया है। देहरादून से चाहे हरिद्वार जाना हो या देहरादून से ऋषिकेश आपकी जेब कटनी तय है। सूत्रों की माने तो देहरादून वाहनों (07) के एक बार में ही माह भर का पास जारी किए जाएंगे और बाहरी वाहनों को टोल टैक्स प्लाजा पर ही टैक्स वसूला जाएगा।

आपको बता दें कि राज्य के तमाम हाइवे पर टोल टैक्स प्लाजा लगाए गये हैं अब आप राज्य में कहीं भी बिना टैक्स दिए नही जा सकते हैं। राज्य के इन हाइवे में जिन लोगों की भूमि गई या जो लोग इससे प्रभावित हुए उनको भी किसी प्रकार की छूट अब तक सरकार की तरफ से नही दी गई है। टोल टैक्स का सीधा असर किराए पे भी देखने को मिलेगा तो किराए के बढ़ने से आम जनता की जेब से भी इन सड़को पर खर्च हुए पैसे को वसूला जाएगा।

विपक्ष लगातार मांग कर रहा है कि स्थानीय लोगों को इस टैक्स से बाहर रखा जाय लेकिन सरकार सत्ता के नशे में चूर है। पहाड़ी क्षेत्र में जाने वाले यात्रियों को भी टोल टैक्स देना होगा। अभी टोल टैक्स हरिद्वार व ऋषिकेश मार्ग पर लगाया गया है लेकिन आने वाले दिनों में टोल प्लाजा की संख्या बढ़ भी सकती है। केंद्र सरकार ने सड़क निर्माण तो किए लेकिन निर्माण पर खर्च हुई राशि को जनता से वसूले के इंतजाम पहले ही कर दिये हैं। जिस राज्य में एक भी टोल टैक्स प्लाजा नही था वहां आज हर सड़क पर टोल टैक्स लगाने की तैयारी पूरी हो चुकी है। पेट्रोल-डीजल के दाम पहले ही आसमान छूँ रहे हैं। ऐसे में इन सब की मार का असर हर एक आदमी पर पड़ने वाला है।