कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए राज्यों ने फ्री में टीकाकरण की बात तो कर दी लेकिन क्या सरकारें इसके लिए तैयार हैं ? उत्तराखंड में टीकाकरण का सच जाने के लिए हमने covid वेबसाइट पर लॉगिन किया तो पता चला की देहरादून में वैक्सिनेशन के लिए सेंटर ही नही है। ऐसे में एक मई से टीकाकरण कैसे शुरू होगा ये तो सरकार ही बता पाएगी। आपको बता दें कि वैक्सीन आर्डर के बाद भी वैक्सीन पहले उन राज्यों को दी जा रही है जो अति संवेदनशील राज्य हैं। ऐसे में उत्तराखंड का नम्बर कब आएगा कुछ कहा नही जा सकता है। सूत्रों की माने तो 2022 में चुनाव की वजह से भाजपा इसका लाभ जरूर लेना चहियेगी इसलिए राज्य में टीकाकरण मुफ्त में होगा इसकी ज्यादा संभावनाएं हैं। खैर, जनता को टीका मिलना चाहिए बाकी सरकार किसकी आएगी ये तो आने वाला वक्त ही बातएगा।

जिन राज्यों में वैक्सीन का आर्डर पहले से ही दिया हुआ है उनको भी 01 मई को वैक्सीन उपलब्ध हो इस पर भी संकट मंडरा रहा है। दवा कम्पनियों का कहना है कि पहले केंद्र सरकार का आर्डर पूरा किया जाएगा उसके बाद राज्यों को वैक्सीन दी जाएगा। ऐसे में आज दिल्ली के मुख्यमंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी है कि उम्मीद है 01 मई को राज्य में 3 लाख वैक्सीन आ जाएंगी लेकिन लोग वैक्सीन के लिए भीड़ न लगाएं। आपको बता दें कि दिल्ली ने 1.35 करोड़ वैक्सीन का आर्डर दवा कम्पनियों को दिया हुआ है। ऐसे में वैक्सीन का मिलना इतना आसन भी नजर नही आ रहा है। खैर ,भारत में बनी कोरोना की दवाई पूर्ण रूप से सुरक्षित है इसलिए अपनी बारी आने पर टीका जरूर लगाएं और अन्य लोगों को भी जागरूक करें।