कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को लेकर राज्य शिक्षा मंत्री की सक्रियता बढ़ गई है। सीबीएसई की परीक्षाओं को लेकर केंद्र सरकार भी माथा-पच्ची कर रही है। ऐसे में राज्य शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे की कसरत भी बढ़ गई है और उन्होंने जल्द ही इस विषय पर शिक्षा विभाग की बैठक बुलाई है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस बैठक में चर्चा के बाद अरविंद पांडे सीएम तीरथ सिंह से इस सन्दर्भ में बात करेंगे कि राज्य में कक्षा 12वीं सीबीएसई की परीक्षाएं कब और कैसे सम्पन्न करवाई जाएंगी।

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को देखते हुए प्रदेश सरकार ने उत्तराखंड बोर्ड की 10वीं की परीक्षा रद कर दी थी, जबकि 12 वीं की परीक्षा को स्थगित किया था। साथ ही निर्णय लिया था कि एक जून को परिस्थितियों की समीक्षा कर 12वीं की परीक्षा के संबंध में निर्णय लिया जाएगा। 12वीं की परीक्षा को विद्यार्थियों के भविष्य के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। इसके बाद ही वे आगे की प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियां करते हैं। इसे देखते हुए केंद्र सरकार भी सीबीएसई की इस परीक्षा को लेकर सक्रिय हुई है।

हालांकि कुछ राज्य पहले ही अपने तरीकों से 12वीं की परीक्षाओं की घोषणा कर चुके हैं। लेकिन अभी कई राज्य ऐसे हैं जिनको केंद्र के निर्णय का इन्तजार है। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने बताया कि उत्तराखंड बोर्ड की 12वीं की परीक्षा को लेकर सरकार गंभीर है। विद्यार्थियों के लिहाज से यह बेहद महत्वपूर्ण है। इस परीक्षा के संबंध में सोमवार को शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की जाएगी। सोमवार को ही वह मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से मुलाकात कर विचार-विमर्श करेंगे। इसके बाद 12वीं कक्षा के एक लाख से अधिक छात्र-छात्राओं की परीक्षा के स्वरूप आदि को लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिए जाएंगे।