मुंबई: पीएम मोदी और उद्धव ठाकरे की मुलाकात के बाद से महाराष्ट्र की राजनीति में उथल-पुथल मची हुई है। अब ऐसे कई लोग हैं जो एक बड़े बदलाव की अटकलें लगा रहे हैं। इसी बीच रामदास अठावले का एक बयान भी सामने आया है जिसके बाद अफवाहों का बाजार और भी गर्म हो गया है। अब इन सबके बीच संजय राउत ने मामले पर सफाई दी है। संजय राउत ने हाल ही में एक बयान देते हुए कहा, शिवसेना को महाराष्ट्र में 5 साल के लिए सीएम पद मिला है। बदलाव की कोई उम्मीद नहीं है।

दरअसल, संजय राउत ने शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' में इसके बारे में काफी कुछ लिखा है। उन्होंने 'रोकताक' कॉलम में लिखा, शिवसेना को 5 साल के लिए सीएम पद मिला है। ऐसा लगता है कि बदलाव की कोई और संभावना नहीं है। यह भी कहा गया है कि बीजेपी ने चुनाव से पहले शिवसेना को सीएम पद देने का वादा किया था लेकिन उसे नहीं निभाया। इस कठिनाई के बाद ही शिवसेना ने नई सरकार बनाई।

वहीं शिवसेना सांसद राउत ने भी लिखा है, 'पीएम मोदी के पास उद्धव ठाकरे को सीएम पद दिलाने का आश्वासन देने की कोई गुंजाइश नहीं है। सीएम की कुर्सी को लेकर दोनों पार्टियों के बीच विवाद है। इसलिए बदलाव नहीं हो रहा है। संजय राउत ने साफ कर दिया है कि महाराष्ट्र में सरकार के बीच अच्छा तालमेल है। गठबंधन पार्टियां सीएम उद्धव के काम में दखल नहीं देती हैं। सीएम अपने फैसले खुद लेते हैं। रामदास अठावले ने कहा था कि महाराष्ट्र में बहुत जल्द एक बड़ा फेरबदल हो सकता है। शिवसेना और भाजपा के ढाई साल के लिए सीएम पद साझा करने की संभावना है।