देश के लिए उत्तराखंड का एक और जांबाज शहीद, पौड़ी जिले के मनदीप सिंह नेगी थे घर के अकेले चिराग। ईश्वर वीर को श्री चरणों मे जगह प्रदान करे, ॐ शांति ।

शहीद जवान मनदीप सिंह नेगी पौड़ी जिले के पोखड़ा प्रखंड के अंतर्गत ग्राम सकनोली रहने वाले थे। मनदीप सिंह गढ़वाल रेजीमेंटल सेंटर की 11 वीं बटालियन के राइफलमैन थे। मौजूदा समय में मनदीप सिंह पर जम्मू-कश्मीर के गुलमर्ग क्षेत्र में सीमाओं की सुरक्षा का जिम्मा था। लेकिन शुक्रवार को एक फोन कॉल से जो समाचार मिला उससे पूरे गांव में मातम पसर गया। जुलाई में जिस बहादुर बेटे को अपने पैरों पर चलकर घर आना था, शनिवार को वही देश के लिए शहीद हो लौट रहा है।

मनदीप सिंह नेगी अपने घर का अकेला चिराग था। जैसे ही बेटे की शहादत की खबर सुनी माँ वहीं पर बेसुद हो गिर पड़ी। ग्राम प्रधान ने बताया कि जुलाई में मनदीप को छुट्टी पर घर आना था और घर में उसकी शादी की तैयारियां चल रही थी। पिता सत्यपाल भी बेटे की शादी को लेकर उत्साहित थे लेकिन ईश्वर को कुछ और ही मंजूर था इसलिए ग्राम प्रधान को सेना द्वारा प्राप्त सूचना पर मनदीप के पिता को उनके दुःखद निधन का समाचार सुनाना पड़ा।