युवा कांग्रेस नेता और राजस्थान कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष सचिन पायलट पिछले काफी समय से नाराज चल रहे हैं।  इस बीच उनके पार्टी छोड़ने की भी अटकलें तेज हो गई हैं।  एक बार फिर ऐसी अटकलों का बाजार गर्म है।  इस बीच सचिन पायलट दिल्ली पहुंच गए हैं।  उनके आज पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करने की संभावना है। दरअसल, पिछले साल अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ बगावत पर सचिन की मांगों को अभी तक पूरा नहीं किया जा सका है।

हाल ही में कांग्रेस छोड़कर ज्योतिरादित्य सिंधिया और जितिन प्रसाद के भाजपा में शामिल होने के मद्देनजर कांग्रेस पायलट को पार्टी में शामिल होने से रोकने की पूरी कोशिश करेगी।  पायलट और गहलोत के बीच चल रही झड़पों के बारे में पूछे जाने पर राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह ने कहा, देखिए सचिन पायलट पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं और पार्टी में कोई टकराव नहीं है। अजय माकन ने कहा है कि मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा। इस लिए मुझे नहीं लगता कि कोई विवाद है।

आपको बता दें कि राजस्थान की सियासत में इन दिनों फिर से उथल-पुथल देखने को मिल रही है। कयास लगाए जा रहे हैं कि पायलट जितिन प्रसाद के बाद बीजेपी में शामिल होंगे।  हालांकि पायलट ने एक बार फिर स्पष्ट किया कि, 'मैं कांग्रेस में हूं और रहूंगा।  हां, पायलट नाराज हैं, कोई दो राय नहीं है।  इसलिए वह हाईकमान से मिलने दिल्ली पहुंचे हैं।