पिछले एक माह से हल्द्वानी व दून के बीच बसों का संचालन बंद है। कुमाऊं व गढ़वाल मंडल की बसें सिर्फ अपने क्षेत्र में चल रही है। कुमाऊं मंडल की बसों का लास्ट स्टाप जसपुर बार्डर तक है। कोराेना पाबंदी में ढील मिलने से यात्रियों की संख्या में इजाफा हो रहा है। ऐसे में परिवहन निगम को घाटा भी हो रहा है। यदि कुछ दिन यही हाल रहा तो महामारी में पहले से खस्ताहाल विभाग की हालत और खराब हो जाएगी। अभी यात्रियों के लिए केवल ट्रेन ही एक मात्र विकल्प है।

रोडवेज अफसरों के मुताबिक पिछले तीन दिनों से रोडवेज में सवारियों की संख्या में इजाफा हुआ है। जिस वजह से इनकम का औसत भी कुछ बढ़ा है। कोविड कफ्र्यू के बाद पहली बार ऐसा हुआ होगा। जसपुर से लेकर हरिद्वार के बीच 110 किमी का सफर तय करने के लिए उत्तर प्रदेश से होकर गुजरना पड़ता है। इसलिए परिवहन निगम ने पड़ोसी राज्य के परिवहन विभाग से अनुमति मांगी थी। विभागीय सूत्रों की माने तो फिलहाल उप्र से अनुमति नहीं दी। उत्तराखंड परिवहन निगम के तमाम प्रयासों के बावजूद फिलहाल कुमाऊं से देहरादून के लिए बसों का संचालन नहीं हो पाएगा।