केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ भारतीय सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी मिली है। पिछले 24 घंटे में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में 5 आतंकियों को ढेर किया है।  इनमें हिजबुल मुजाहिदीन आतंकी समूह का शीर्ष कमांडर मेहराजुद्दीन उर्फ ​​उबैद है, जो घाटी का पुराना आतंकवादी और बुरहान वानी का साथी था।

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों से मुठभेड़ बुधवार (7 जुलाई, 2021) की रात शुरू हुई।  दो आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने पुलवामा में तलाशी अभियान शुरू किया।  इसी दौरान घर में छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग कर दी।  सुरक्षाबलों ने भी पहले आतंकियों को सरेंडर करने को कहा लेकिन आतंकियों की तरफ से फायरिंग जारी रही।  इसके बाद सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई करते हुए दो आतंकियों को ढेर कर दिया।  मुठभेड़ गुरुवार (08 जुलाई) की तड़के कुलगाम के जोदर इलाके में शुरू हुई।  मुठभेड़ में पुलिस और 01 आरआर के बीच संयुक्त अभियान में लश्कर के दो आतंकवादी मारे गए।  पुलवामा और कुलगाम में मुठभेड़ में कुल 4 आतंकवादी मारे गए हैं।

उत्तरी कश्मीर में, हिजबुल मुजाहिदीन के शीर्ष कमांडर मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ ​​उबैद को सुरक्षा बलों ने हंदवाड़ा में एक मुठभेड़ में मार गिराया।  कश्मीर क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने कहा कि मेहराजुद्दीन हिजबुल के पुराने और खूंखार आतंकवादियों में से एक था।  मेहराजुद्दीन हिजबुल कमांडर बुरहान वानी का साथी था।  ऑपरेशन को पुलिस, सेना और सीआरपीएफ ने संयुक्त रूप से अंजाम दिया।