भू-स्खलन में एक ही परिवार के तीन लोगों की दर्दनाक मौत, मलबे में जिंदा मिला एक बच्चा।

बागेश्‍वर जिले में भूस्‍खलन के कारण घर जमींदोज हो गया। हादसे में पति-पत्‍नी समेत एक बच्‍चे की मौत हो गई है। बागेश्‍वर जिले में मूसलाधार बारिश व ओलावृष्टि हुई। बारिश से सबसे अधिक नुकसान कपकोट ब्लॉक में हुआ है। कपकोट ब्लॉक के सुमगढ़ गांव के इटावन तोक में एक मकान भूस्खलन की चपेट में आ गया। मकान में रह रहे तीन लोग गोविंद सिंह पांडा पुत्र प्रताप सिंह, खश्टी देवी पत्नी गोविंद सिंह व हिमांशु 8 वर्ष की मलबे में दबने से मौत हो गई।


इस घटना के बाद किसी तरह एक बच्चे को मलबे से जिंदा निकाल लिया गया। घटना रात तीन बजे घटित हुई जब पूरा परिवार सो रहा था। एक परिवार के चार लोगों में तीन मौत के मुह में चले गए जबकि एक बच्चे को बचा लिया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि रात का समय होने से परिवार को बचने का कोई मौका नही मिल पाया और मकान मलबे में ताश के पत्तों की तरह बिखर गया।


भारी बारिश के चलते सड़के भी बन्द पड़ी हुई हैं। गांव से 08 किलोमीटर पहले सड़क बन्द पड़ी होने से राहत बचाव के कार्य में देरी हुई। अधिक समय खराब होने से रेस्क्यू कार्य में देरी हुई। जब बचाव कार्य शुरू किया गया तो एक बच्चा जीवित मिला और अन्य एक महिला, एक पुरुष और एक बच्चा मृत पाया गया। घटना के बाद से गांव में मातम का माहौल बना हुआ है।