पिथौरागढ़ जिले के एक गांव में सुबह 7 बजे उस वक्त मकान भरभराकर गिर गया जब बच्चे आंगन में खेल रहे थे।


पिथौरागढ़ जिले के अंतर बेरीनाग तहसील से 15 किलोमीटर दूर कमदीना गांव से एक चौकाने वाली खबर सामने आई है। गांव में स्थित पत्थर का एक मकान उस समय भरभराकर गिर पड़ा जब बच्चे आंगन में खेल रहे थे। गनीमत यह रही की सभी बच्चे इस हादसे से सुरक्षित बचकर निकलने में कामयाब रहे। 

शुक्रवार सुबह 07 बजे संतोष राम पुत्र फकीर राम के घर के सदस्य  खेतों में धान की निराई करने के लिए गए हुए थे।लेकिन बच्चे आंगन पर खेल रहे थे। इसी दौरान अचानक  दो कमरों का मकान ढह गया। मकान से पत्थर गिरते देख बच्चे चिल्लाते हुए भाग गए और उनके देखते ही देखते पूरा मकान ध्वस्त हो गया। सूचना पर परिवार खेत से घर लौटा तो देखा कि घर में रखा खाने पीने का सारा सामान मलबे में दब गया। जिससे परिवार के आगे खाने का संकट पैदा हो गया।

ग्राम प्रधान चारु पंत ने इसकी सूचना तहसील प्रशासन और पटवारी को दी। सूचना पर राजस्व उप निरीक्षक आशा राज मौके पर पहुंची और क्षति का आकंलन किया। पीड़ित परिवार के गांव में ही दूसरे के मकान में रहने की व्यवस्था की गई। ग्राम प्रधान ने प्रशासन से प्रभावित परिवार को तत्काल राहत राशि देने की मांग की है ताकि परिवार के सम्मुख रोटी का संकट पैदा नहीं हो। इस पर कारवाई करते हुए  निरीक्षक आशा राज ने रपट तैयार कर जिला प्रशासन को भेज दी है।