वरिष्ठ नेताओं की नजरअंदाजी से प्रदेश भाजपा में पड़ी फूट, 2022 चुनाव से पहले कहीं फिर न बदलना पड़ जाए चेहरा। अटकलों का बाजार गर्म।

उत्तराखंड के 11वें मुख्यमंत्री के तौर पर पुष्कर सिंह धामी के शपथ ग्रहण से पहले बीजेपी अपनी नाराजगी दूर करने में लगी रही। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक के आवास पर पिछले कई घंटों से बैठक चल रही थी। सूत्रों के मुताबिक बैठक में प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, पार्टी के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम और प्रदेश महासचिव अजय मौजूद थे। 

सूत्रों के मुताबिक धामी के शपथ ग्रहण से पहले नाराज नेताओं को मनाने की कवायद चलती रही। बताया जा रहा है कि वरिष्ठ नेताओं से कम उम्र के पुष्कर सिंह धामी के चयन से कई नेता नाराज हो गए हैं।  पार्टी-राज्य नेतृत्व ने पुष्कर धामी को उत्तराखंड की जिम्मेदारी सौंपी है।  हालांकि प्रदेश भाजपा के कुछ वरिष्ठ नेता भी पार्टी नेतृत्व के इस फैसले से नाराज बताए जा रहे हैं।  हालांकि बिशन सिंह चुफल अपनी नाराजगी जाहिर करने से इनकार कर रहे हैं, लेकिन उनका कहना है कि उनके साथ हरक सिंह रावत और सतपाल महाराज के फोन पर चर्चा हुई है। विषय जो भी हो, इस पर पार्टी-राज्य नेतृत्व से चर्चा की जाएगी।

वहीं बिशन सिंह चुफल की नाराजगी की इनपुट्स के बीच मनोनीत सीएम पुष्कर धामी और बीजेपी के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम ने उनसे फोन पर बात की। भाजपा के वरिष्ठ नेता और सांसद अजय भट्ट ने पार्टी नेताओं की किसी भी नाराजगी से साफ इनकार किया है।  उनका कहना है कि पार्टी नेतृत्व ने जो भी फैसला लिया है वह सभी को मंजूर है।