भिलंगना ब्लॉक में बादल फटने से कई घरों में घुसा मलबा, गनीमत रही कि एक चेतावी के साथ घरों में सोए लोग नींद से जागकर भाग गए।

टिहरी जिले के भिलंगना ब्लॉक के मेड गांव में आज सुबह लगभग 4:15  बजे जोरदार आवाज के बाद तेज बारिश शुरू हुई। आजाव इतनी तेज थी नींद में पड़े सभी ग्रामीण जग गये और समय रहते अपने घर छोड़ दिये। इस घटना में कुछ घर मलबे में तब्दील हो गये लेकिन गनीमत रही कि सभी ग्रामीण सुरक्षित हैं। नुकसान का जायजा लेने के लिए प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच चुकी है।


पहाड़ समीक्षा से बातचीत  में ग्रामीण राहुल सिंह ने बताया कि तड़के एकतेज आवाज हुई, आवाज इतनी भयंकर थी कि सभी लोग नींद से जाग गये। राहुल के अनुसार अगर आवाज न हुई होती तो कई लोग घरों में घुसे मलबे में ही दम तोड़ देते। इधर उत्तरकाशी की घटना के बाद मुख्यमंत्री ने राज्य आपदा परिचालन केन्द्र में ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों और कार्मिकों को राज्य में आपदा की स्थिति पर लगातार नजर रखने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने निर्देश दिए कि आपदा से संबंधित किसी भी घटना की जानकारी तुरंत उच्चाधिकारियों को दी जाए। आपदा की स्थिति में क्विक रिस्पांस सुनिश्चित किया जाए। इस अवसर पर सचिव आपदा प्रबंधन एसए मुरूगेशन व अन्य अधिकारी उपस्थित थे।