पुणे: कोरोना संकट के बीच देश से कई चौंकाने वाले मामले सामने आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि वनवानी थाना क्षेत्र के आजाद नगर में रहने वाले डॉक्टर दंपत्ति का किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। दोनों की पहचान अंकिता निखिल शेंडकर (26) और निखिल दत्तात्रेय शेंडकर (28) के रूप में हुई है। अंकिता और निखिल दोनों आजाद नगर में रहने वाले बताए जा रहे हैं।  दोनों अलग-अलग जगहों पर प्रैक्टिस कर रहे थे।  अंकिता का क्लिनिक गली नंबर 2, आजाद नगर में है और निखिल कहीं और प्रैक्टिस कर रहा था।  बीती रात घर जाते समय दोनों के बीच एक फोन हुआ। यह फोन रात करीब 8 बजे निखिल के घर पहुंचने से पहले अंकिता ने किया था।


अंकिता बेडरूम में फंदे से लटकी मिली।  रात के बाद अंकिता को अस्पताल भेजा गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।  पुलिस ने तुरंत शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।  अंकिता का शव पोस्टमॉर्टम के बाद उसके भाई को सौंप दिया गया। निखिल ने गुरुवार सुबह करीब 7 बजे फांसी लगा ली क्योंकि वह आत्महत्या का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पा रहा था।  निखिल की मौत की सूचना मिलते ही वनवानी पुलिस फिर मौके पर पहुंची। जिसके बाद निखिल के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए सरकारी अस्पताल भेज दिया गया।