नरेंद्रनगर में पत्थर गिरने से पांच लोगों की दर्दनाक मौत, दो बाइक सवार लोग बाइक समेत खाई में गिरे लेकिन ढूंढने पर नही चला कोई पता। पुलिस रेस्क्यू कार्य मे जुटी।

पहाड़ी क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश के कारण सड़कों का बुरा हाल है। आल वेदर के नाम पर हुई खड़ी कटाई के कारण सड़कों पर बड़े बड़े बोल्डर गिर रहें है। हाल ही में श्रीनगर-ऋषिकेश मार्ग पर कार ऊपर पत्थर आने से एक प्रोफेसर की मौत हो गई थी जबकि दो लोग बाल बाल बच गए थे। एनएच-58 लगातार बाधित चल रहा था। जबकि आल वेदर प्रोजेक्ट के लिए यह पहली बरसात है। ऐसे में सरकार के दावे पूरी तरह से खोखले नजर आ रहें। जिस तरह के सपने दिखा कर करोड़ो के पेड़ काटकर पर्यावरण को नुकसान पहुंचाया गया, वह जनता के साथ किया गया एक धोखा साबित हुआ इससे ज्यादा कुछ नहीं।


बुधवार को शाम को लगभग छह बजे नरेंद्रनगर में फिर एक बड़ा हादसा हो गया। यहां पत्थर की चपेट में आकर पांच लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि एक बाइक खाई में जा गिरी। प्राप्त जानकारी के अनुसार बाइक में दो लड़के सवार थे। अभी तक दोनों युवकों का कोई पता नहीं है। सूचना के बाद मौके पे पुलिस पहुंच गई है। राहत बचाव के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।