धारचूला में नया बस्ती निवासी सुंदर सिंह सीपाल की बोल्डर की चपेट में आने से मौत हो गई, वह नया बस्ती से मल्ला नया बस्ती जा रहे थे। 

बारिश के बाद पहाड़ों में जगह-जगह भूस्खलन का सिलसिला जारी है। शुक्रवार को धारचूला में पहाड़ी से गिरे बोल्डर की चपेट में आकर एक युवक की मौत हो गई। धारचूला में नया बस्ती निवासी सुंदर सिंह सीपाल की बोल्डर की चपेट में आने से मौत हो गई, सुंदर सिंह नया बस्ती से मल्ला नया बस्ती जा रहा था । आज बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग टंगड़ी पागलनाला में मलबा आने से अवरुद्ध हो गया है। यहां पर परिवहन निगम की बस मलबे में फंसी है। इस दौरान दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई है। गोपेश्वर में पहाड़ी दरकने से सड़क बंद होने के कारण 150 यात्री फंस गए। बद्रीनाथ हाईवे भी कई स्थानों पर बार-बार बाधित हो रहा है। 


बारिश से सीमांत पिथौरागढ़ जिले का बुरा हाल है। यहां मदकोट-दारमा सड़क पर मलबा आने से यातायात प्रभावित हो गया। इधर, चमोली जिले में जोशीमठ-मलारी राष्ट्रीय राजमार्ग पर तमक में पहाड़ी फिर दरक गई है। हाईवे पर बड़े बोल्डर आने के कारण यहां वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है। पहाड़ी से रुक-रुककर बोल्डर, मलबा गिरने के कारण सीमा सड़क संगठन भी सड़क खोलने का कार्य शुरू नहीं कर पा रहा।

रुद्रप्रयाग जनपद में गौरीकुंड हाईवे तिलबाड़ा के पास व लाटा बाबा और सीतापुर के पास मलबा आने से आधा घंटा बंद रहा। वहीं, नगरासू-डांडाखाल मोटरमार्ग के दो सप्ताह से बंद होने के कारण ग्रामीणों से परेशानी बढ़ गई है। इससे क्षेत्र में रोजमर्रा समेत जरूरी सामग्री की आपूर्ति ठप पड़ गई है। मौसम विभाग के अनुसार देहरादून, नैनीताल समेत छह जिलों में भारी बारिश के आसार हैं।