मशामुक्ति केंद्र संचालक पर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप। चारो युवतियों के मेडिकल करवा रही है पुलिस। मामले में सच्चाई पाई गई तो होगी करवाई।

प्रकृति विहार टर्नर रोड पर वॉक एंड विन साबर लिविंग होम एंड काउंसलिंग सेंटर (नशा मुक्ति केंद्र) है। यहां सेंटर में पांच युवतियां भर्ती थीं। इनमें से चार युवतियां गुरुवार शाम साढ़े पांच बजे के करीब वार्डन को चकमा देकर भाग गई थी। पुलिस ने सूचना पर जब फरार युवतियों के परिजनों से पता किया तो उनमें से कोई भी घर नहीं पहुंची थी। जिसके बाद पुलिस टीम ने युवतियों के मोबाइल का लोकेशन पता करने के लिए सर्विलांस पर लगाया।


पुलिस को इन युवतियों का लोकेशन त्यागी रोड स्थित एक होटल के आसपास का पता चला। जिसके बाद पुलिस लोकेशन ट्रेस करते हुए युवतियों के पास जा पहुंची। पुलिस ने सभी चारों युवतियों को अपने हिरासत में लेकर थाने पहुंची और उनसे पूछताछ की। पूछताछ में युवतियों ने संचालक विद्यादत्त रतूड़ी पुत्र हर्षमण निवासी देवप्रयाग टिहरी गढ़वाल पर कई गम्भीर आरोप लगाए हैं।

तीन में से एक युवती ने संचालक पर बलात्कार का आरोप भी लगाया है। संचालिका विभा सिंह पुत्री रविंद्र सिंह निवासी 1/608 न्यू विष्णुपुरी सुरेंद्र नगर अलीगढ़ हाल पता नशामुक्ति सेंटर से युवतियों ने  कई बार शिकायत भी की। लेकिन, केंद्र संचालिक विभा सिंह द्वारा ऐसा करने के लिए दबाव बनाया जाता था। चारों युवतियों में से एक रूड़की, एक विकासनगर तथा दो देहरादून की रहने वाली है। अब सभी का मेडिकल करवाया जा रहा है। दोषी पाए जाने पर संचालक के खिलाफ कई आपराधिक धाराओं में मुकदमा दर्ज होगा।